• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

टी सीरीज के मालिक गुलशन कुमार पहले जूस बेचते थे इस कारण हुई थी हत्या

1 min read

न्यूज टुडे

झारखंड बिहार


बॉलीबुड।

टी सीरीज के मालिक गुलशन कुमार पहले जूस बेचते थे………………………………………………………….(बॉलीबुड):  गुलशन कुमार का जन्म 5 मई, 1951 को हुआ था. गुलशन कुमार ने संगीत को नई पहचान दी. उनका पूरा नाम गुलशन कुमार दुआ था.

संघर्षपूर्ण जीवन बिताने के बाद अपने संगीत और उसके प्रति लगन से उन्होंने एक खास मुकाम हासिल किया. उनकी जन्मतिथ‍ि पर हम आपको बता रहे हैं उनके जीवन से जुड़े कुछ किस्से.

गुलशन कुमार शुरुआती समय में अपने पिता के साथ दिल्ली की दरियागंज मार्केट में जूस की दुकान चलाते थे. इसके बाद ये काम छोड़ उन्होंने दिल्ली में ही कैसेट्स की दुकान खोली जहां वो सस्ते में गानों की कैसेट्स बेचते थे.

गुलशन कुमार की बायोपिक से बाहर हुए अक्षय, उनसे भी बड़ा स्टार चाहते हैं प्रोड्यूसर

इसके बाद उन्होंने अपना खुद का सुपर कैसट इंडस्ट्री नाम से ऑडियो कैसट्स ऑपरेशन खोला. जिसके बाद उन्होंने नोएडा में खुद की म्यूजिक प्रोडेक्शन कंपनी खोली और बाद में मुंबई शिफ्ट हो गए.

गुलशन कुमार ने टी सीरीज के कैसेट के जरिये संगीत को घर-घर पहुंचाने का काम किया. उनके निधन के बाद इसका कार्यभार उनके बेटे भूषण कुमार और बेटी तुलसी कुमार ने अपने कंधों पर लिया. टी-सीरीज आज भी सबसे प्रसिद्ध म्यूजिक प्रोडेक्शन कंपनी है.

जमीन से जुड़े हुए गुलशन कुमार ने अपनी उदारता भी खुलकर दिखाई. उन्होंने अपने धन का एक हिस्सा समाज सेवा के लिए दान किया. उन्होंने वैष्णो देवी में एक भंडारे की स्थापना की जो आज भी तीर्थयात्रियों के लिए भोजन उपलब्ध कराता है.

म्यूजिक के लिए बेहद खराब दौर, अब गुलशन कुमार भी नहीं: अनुराधा

गुलशन कुमार 1992-93 में सबसे ज्यादा टैक्स देने वालों में से थे. ऐसा माना जाता है कि गुलशन ने मुंबई के अंडरवर्ल्ड की जबरन वसूली की मांग के आगे झुकने से मना कर दिया था, जिसके कारण उनकी हत्या कर दी गई. बता दें कि 12 अगस्त, 1997 को मुंबई में एक मंदिर के बाहर गोली मारकर गुलशन की हत्या कर दी गयी थी.गुलशन कुमार के जीवन पर आधारित एक फिल्म भी बनने जा रही है. फिल्म का नाम मोगुल रखा गया है. पहले गुलशन के रोल के लिए एक्टर अक्षय कुमार को कास्ट किए जाने की खबरें थीं मगर शायद अब वो फिल्म का हिस्सा नहीं है और फिल्म की कास्ट पर संशय अभी भी बना हुआ है.

newstodayjharkhand.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.