झारखंड हाई कोर्ट में कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश प्रशांत कुमार नहीं रहे।क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर…………..

रांची।

झारखंड हाई कोर्ट में कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश प्रशांत कुमार नहीं रहे।क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर…………..

रांची। झारखंड हाई कोर्ट में कार्यवाहक मुख्‍य न्‍यायाधीश प्रशांत कुमार का शुक्रवार की सुबह निधन हो गया। बताते चलें कि उन्‍होंने रांची के मेडिका अस्‍पताल में आखिरी सांसें लीं। न्यायाधीश प्रशांत कुमार के निधन से न्‍यायविदों में शोक की लहर दौड़ गई। इस समय वे झारखंड उच्च न्यायलय में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में पदस्‍थापित थे। सुबह 5.16 बजे उनका देहावसान हुआ है। जस्टिस प्रशांत कुमार 61 वर्ष के थे। उनका जन्‍म एक जुलाई 1958 को हुआ। उनकी प्रारंभिक शिक्षा छपरा, बिहार के बिशेश्‍वर सेमिनरी स्‍कूल से हुई। उन्‍होंने बनारस के उदय प्रताप सिंह कॉलेज से साइंस में स्‍नातक किया। वे एक अक्‍टूबर 1980 को एक अधिवक्‍ता के रूप में बिहार राज्‍य बार काउंसिल से जुड़े। उन्‍होंने वकील के तौर पर पटना हाई कोर्ट में लंबे समय तक प्रैक्टिस किया। वे पटना हाई कोर्ट के रांची बेंच में भी 1980 से लेकर 1991 तक सं‍वैधानिक और सेवाओं से जुड़े मामले देखते रहे। 6 मई 1991 को प्रशांत कुमार एडीजे के तौर पर न्‍यायिक सेवा में दाखिल हुए। इसके बाद उन्‍हें जून 2001 में जिला जज के रूप में प्रो‍न्‍नत किया गया। मरहूम प्रशांत कुमार 21 जनवरी 2009 को झारखंड हाई कोर्ट में अतिरिक्‍त जज के रूप में पदस्‍थापित हुए।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here