• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

कोरोना अपडेट:ब्लैक फंगस का कहर जारी ,14 राज्यों में महामारी घोषित…..

1 min read

कोरोना अपडेट:ब्लैक फंगस का कहर जारी ,14 राज्यों में महामारी घोषित…..

 

NEWSTODAYJ_कोरोना अपडेट:कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहा देश अब म्यूकरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस की चपेट में भी आता जा रहा है। पिछले कुछ दिनों में ही इस बीमारी ने हजारों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। अभी तक हरियाणा, गुजरात, यूपी और पंजाब समेत करीब 14 राज्यों ने इस बीमारी को महामारी घोषित कर दिया है।

 

यह भी पढ़ें…कोरोना अपडेट:देश के लिए अच्छी खबर,ब्लैक फंगस को ठीक करने वाली दवा बाजारों में आई

किस राज्य में कितने मामले

ब्लैक फंगस के सबसे ज्यादा मामले गुजरात में हैं यहां 2281 लोग ब्लैक फंगस की चपेट में आए हैं. इसके अलावा महाराष्ट्र में 2000 मामले, आंध्र प्रदेश में 910 मामले, मध्यप्रदेश में 720, राजस्थान में 700, कर्नाटक में 500, दिल्ली में 197, यूपी में 124, तेलंगाना में 350, हरियाणा में 250, पश्चिम बंगाल में 6 और बिहार में 56 मामले सामने आए हैं। शनिवार को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक अस्पताल में इलाज के दौरान एक 32 वर्षीय महिला की ‘ब्लैक फंगस’  से मौत हो गई।

 

इन राज्यों में महामारी घोषित

कोरोना के मरीजों में ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को देखते हुए हरियाणा, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, यूपी, पंजाब, गुजरात, तमिलनाडु, राजस्थान, ओडिशा, बिहार, चंडीगढ़, उत्तराखंड, तेलांगना समेत करीब 14 राज्यों में इस बीमारी को महामारी घोषित कर दिया गया है।

 

महामारी घोषित होने पर गाइडलाइंस का करना होता है पालन

बता दें कि जो राज्य किसी बीमारी को महामारी घोषित कर देते हैं फिर उन्हें केस, इलाज, दवा और बीमारी से होने वाली मौत का हिसाब रखना होता है। साथ ही सभी मामलों की रिपोर्ट चीफ मेडिकल ऑफिसर को देनी होती है। इसके अलावा केंद्र सरकार और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद यानी आईसीएमआर की गाइडलाइंस का पालन करना होता है।

 

सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री से की ये अपील

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देश में ब्लैक फंगस के मामलों में बढ़ोतरी और जरूरी दवा की कथित कमी को लेकर चिंता प्रकट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि इस बीमारी के मरीजों को राहत प्रदान करने के लिए तत्काल जरूरी कदम उठाए जाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.