• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

आधी हकीकत आधा फसाना

1 min read

आधी हकीकत आधा फसाना

NEWSTODAYJ (निरंजन सिन्हा) छतरपुर/पलामू –  छतरपुर के कचनपुर पंचायत अंतर्गत पिछूलिया ग्राम से एक वाक्या सामने आया है जिसके बाद हर कोई आश्चर्य कर रहा है, गांव के सपेरों के द्वारा एक महिला के पैर से सांप का विष मुंह से निकाल कर ठीक कर दिया गया। जहरीले से जहरीले सर्प के विष को पिछले कई पुस्तों से निकालते आ रहे है छतरपुर प्रखंड अन्तर्गत पिछूलीया ग्राम के सपेरे। जैसे जैसे सर्प दंश के शिकार हुए लोग आते रहे और ठीक होकर जाते रहे कानों कानों ये बाते भी छतरपुर सहित आस पास के कई जिलों सहित पास के बिहार राज्य तक भी जा पहुंची। ग्रामीणों का कहना है कि आज तक इस गांव के लोगो को सांप के काटने बाद डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ी। किसी तरह के सांप के काटने के बाद लोग इन्हे सपेरों के पास जाते है और ठीक हो घर लौटते है। ग्रामीणों का ये विश्वास इतना दृढ़ है कि उनका कहना है कि हमने ऐसा कभी नहीं देखा कि जो लोग सर्प दंश के बाद यहां आए है और उनके साथ कोई अनहोनी हुई हो ।

ये बाते कई मर्तबा हमने भी सुन रखी थी लेकिन इसपर कभी विश्वास नहीं किया। लेकिन जब हमने सबकुछ  सामने देखा तो थोड़े हैरत में जरूर आ गए ।

एक महिला जो बिहार के औरंगाबाद जिले के माली थाना रेगिनिया गांव  निवासी रामदयाल राम की पत्नी प्रभा देवी है , महिला बताती है कि उन्हें करैत सांप ने दाहिने पैर में काट लिया था, जिसके बाद उन्होंने तत्काल औरंगाबाद सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार कराया लेकिन वहा भी राहत नहीं मिला , तब छतरपुर के पिछुलिया गांव में ही रह रही महिला की एक रिश्तेदार ने  उन्हें इस गांव में रह रहे सपेरों की जानकारी दी जो मुंह से जहर को निकाल देते है । फिर क्या था मरता क्या नहीं करता, महिला तुरंत देर शाम पहुंच गई छतरपुर के पिछुलीया गांव जहां सपेरों ने पारंपरिक तरीकों से महिला के पैर से विष निकाला ,और महिला ठीक हो वहा से चली गई ।सबसे चौंकाने वाली बात है कि इतने खतरे वाले काम को ये लोग बिना किसी पैसों के करते है । सपेरों में जनेश्वर राम, युगल राम, इंद्रदेव राम, विजय राम, प्रकाश राम इत्यादि है साथ ही हर साल अदरा के वक्त ये हुनर अन्य लोग भी सीख लेते है।

ये भी पढ़े..

झारखंड के पूर्व डीजीपी डी के पांडे, उनकी पत्नी व बेटे पर दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज 

हालांकि हम अपने दर्शकों को ऐसे किसी अंधविश्वास में पड़ अपने जीवन को खतरे में डालने की सलाह कतई नहीं देते है। ना ही न्यूज़टुडे इस तरह के किसी भी वाकया,कारनामे या घटना की पुष्टि करता हैl सांप व किसी जहरीले जंतु के काटने पर तत्काल अपने निजी अस्पताल जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.