• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

आंध्र प्रदेश:लगातार बढ़ता कोरोना संक्रमण,आंध्र प्रदेश के तिरुपति में ऑक्सीजन की कमी के चलते 11 मरीजों की मौत हो गई

1 min read

आंध्र प्रदेश:लगातार बढ़ता कोरोना संक्रमण,आंध्र प्रदेश के तिरुपति में ऑक्सीजन की कमी के चलते 11 मरीजों की मौत हो गई…..

घटना तिरुपति के रुइया अस्पताल की है, जिसे सरकारी कोविड अस्पताल बनाया गया है। हालांकि, यहां दूसरे मरीजों का इलाज भी चल रहा था…

NEWSTODAYJ_आंध्र प्रदेश: भारत में कोरोना वायरस की रफ्तार एक्सप्रेस बनी हुई है, जिससे हालात लगातार बेकाबू बने हुए हैं। संक्रमण के फैलाव पर विराम लगाने को केंद्र व राज्य सरकार काफी चिंतित हैं। यूपी और दिल्ली सरकार ने तो लॉकडाउन बढ़ाकर 17 मई तक कर दिया है। दूसरी ओर मौत का आंकड़ा भी बढ़ता ही जा रहा है। अस्पतालों में मरीजों की संख्या इतनी अधिक है कि समय पर बेड और ऑक्सीजन भी नहीं मिल रही है।

यह भी पढ़ें….दिल्ली:कोरोना ने बढ़ाई ऑनलाइन शॉपिंग की मांग,ऑनलाइन में लोगों को मिल रहा क्वालिटी भी

बदतर हालात के बीच आंध्र प्रदेश के तिरुपति में सोमवार रात ऑक्सीजन की कमी के चलते कम से कम 11 मरीजों की मौत हो गई है। कलेक्टर ने इन मौतों की पुष्टि कर दी है। कलेक्टर एम. हरि नारायण ने बताया कि ऑक्सीजन की कमी से 11 मरीजों की जान चली गई। उन्होंने कहा है कि अभी अस्पताल के पास एक टैंकर है और एक और टैंकर सुबह तक पहुंच जाएगा।

मामले में मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने जांच के निर्देश दिये। घटना तिरुपति के रुइया अस्पताल की है, जिसे सरकारी कोविड अस्पताल बनाया गया है। हालांकि, यहां दूसरे मरीजों का इलाज भी चल रहा था। कलेक्टर 11 मौतें होने की बात कह रहे हैं, जबकि, अस्पताल की सुपरिटेंडेंट डॉ. भारती का कहना है कि 9 कोरोना मरीज और 3 नॉन-कोविड मरीजों की जान गई है।

 

 

इस हिसाब से 12 मौतें होती हैं, जबकि, 5 मरीजों की हालत गंभीर बताई जा रही है। ऐसे में मौतों का आंकड़ा बढ़ने की आशंका भी है। घटना के बाद चित्तूर के जिला कलेक्टर हरि नारायण, ज्वॉइंट कलेक्टर और म्यूनिसिपल कमिश्नर ने अस्पताल का दौर किया।

यह भी पढ़ें…दिल्ली: केंद्र सरकार ने रेमडेसिविर के 53 लाख इंजेक्शन उपलब्ध कराएं, राज्य और जिले तक पहुंचाए जाएंगे इंजेक्शन

वहीं, डिप्टी सीएम और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अल्ला नानी ने रुइया अस्पताल की सुपरिटेंडेंट डॉ. भारती से फोन कर हालात की जानकारी ली। वहीं, सीएम जगन मोहन रेड्डी ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने घटना की रिपोर्ट भी मांगी है। बताया जा रहा है कि एक ऑक्सीजन टैंकर आना था, लेकिन वो पहुंच नहीं सका, जिस वजह से अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी हो गई और मरीजों की जान चली गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें