World Tribal Day 2020 : विश्‍व आदिवासी दिवस पर 9 अगस्‍त को झारखंड में राजकीय अवकाश घोषित…

World Tribal Day 2020 : विश्‍व आदिवासी दिवस पर 9 अगस्‍त को झारखंड में राजकीय अवकाश घोषित…

  • आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। आदिवासी के नाम पर ही कई चीजें छुपी है। प्रकृति और संस्कृति के बीच रहने वाला है यह समाज प्रकृति के पुजारी हैं।
  • संविधान में आदिवासियों को प्रदत्त शक्तियों के बावजूद हम आज इस सफर में कहां तक पहुंचे हैं। यह आज हमारे लिए एक सवाल है और चिंतन का विषय है।

NEWSTODAYJ : रांची । मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार ने विश्व आदिवासी दिवस (9 अगस्त) को झारखंड में राजकीय अवकाश घोषित करने का निर्णय लिया है। अब हर वर्ष विश्व आदिवासी दिवस के दिन सरकारी छुट्टी होगी। आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। आदिवासी के नाम पर ही कई चीजें छुपी है। प्रकृति और संस्कृति के बीच रहने वाला है यह समाज प्रकृति के पुजारी हैं।

यह भी पढ़े…Crime : पारिवारिक विवाद में 4 वर्षीय बच्चे को अपहरण कर, किया हत्या, 48 घंटे बाद मिला शव…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह गौरव की बात है कि आज प्रकृति के इतने करीब रहने वाले लोग खुशियां मना रहे है। वैश्विक महामारी के कारण आज का कार्यक्रम भव्य तो नहीं हो सका, परंतु आने वाले वर्षों में यह दिवस व्यापक रूप से मनाया जाएगा। उक्त बातें मुख्यमंत्री ने विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर रांची के मोरहाबादी स्थित नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क में पौधारोपण कार्यक्रम के अवसर पर कहीं।

यह भी पढ़े…Coronavirus : होटवार जेल में एक साथ 85 कैदी कोरोना संक्रमित मिलने से कैदियों में हड़कंप…

कला संस्कृति की अलग पहचान।

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड जनजातीय बहुल प्रदेश है। यहां की कला संस्कृति की अलग पहचान है। संविधान में आदिवासियों को प्रदत्त शक्तियों के बावजूद हम आज इस सफर में कहां तक पहुंचे हैं। यह आज हमारे लिए एक सवाल है और चिंतन का विषय है। चाहे वह किसी भी क्षेत्र में क्यों नहीं हो। आज का दिन हम सबों को संकल्प लेने का दिन है।

यह भी पढ़े…Accident : सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान हादसा, ठेकेदार समेत कर्मियों , 6 लोगों की मौत…

संक्रमण की चुनौती से निपटना है।

श्री सोरेन ने कहा कि शुरुआती दिनों से ही कोरोना संक्रमण पर सरकार की नजर है। ऐसी परिस्थिति में संक्रमण से जंग भी लड़ना है और जीतना भी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार ने पूरे देश में अनलॉक की प्रक्रिया की घोषणा कर दी है। राज्य में हमारी कई संस्थाएं और व्यवस्थाएं अभी तक बंद पड़ी हैं। राज्य में आज बेरोजगारी की बड़ी चुनौती है। इस चुनौती से निपटने के लिए जो भी बेहतर होगा वो हमारी सरकार कर रही है और आगे भी करेगी। हर समस्याओं से निपटने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।

यह भी पढ़े…Crime : सनकी पति ने चाकू से पत्नी और नाती को लहूलुहान कर हत्या कर डाला , खुद भी जहर खाकर आत्महत्या कर लिया…

साल और करम का पौधा लगाया

मुख्यमंत्री ने नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क में साल और करम का पौधारोपण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आशा और उम्मीद है कि इन वृक्षों के फल और फूलों की तरह ही समाज भी आगे बढ़ेगा।

 

मुख्यमंत्री ने विश्व आदिवासी दिवस के शुभ अवसर पर देश के विभिन्न प्रांतों और दुनिया के कोने-कोने में बसने वाले आदिवासी समुदायों को शुभकामनाएं दी और झारखंडी ‘जोहार’ कहकर नमन किया। मुख्यमंत्री ने नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क में स्थापित झारखंड के वीर सपूत नीलाम्बर-पीताम्बर की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

 

मुख्यमंत्री विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर पारंपरिक परिधान पहनकर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क में पारंपरिक तरीके से मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया। मौके पर मुख्यमंत्री ने मांदर भी बजाया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद, मुख्यमंत्री के वरीय आप्त सचिव सुनील कुमार श्रीवास्तव सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here