WEST BENGAL:तृणमूल कांग्रेस का भाजपा पर तीखा बयान कहा- बंगाल में नही चलेगा भाजपा का जादू…

WEST BENGAL:तृणमूल कांग्रेस का भाजपा पर तीखा बयान कहा- बंगाल में नही चलेगा भाजपा का जादू…

एजेंसी:कोलकता:केंद्र और राज्य में एक ही पार्टी की सरकार होने से पश्चिम बंगाल में विकास की रफ्तार तेज हो जाने के दावे को लेकर तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा पर हमला बोला है। तृणमूल कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि भगवा पार्टी का डबल इंजन का जाप राज्य में कभी मूर्त रूप नहीं ले पाएगा। वरिष्ठ तृणमूल नेता और मंत्री ब्रत्य बसु ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करते हुए भाजपा नेता केंद्र और राज्य में एक ही दल की सरकार की जरूरत पर जोर दे रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘इस डबल इंजन की ट्रेन में आम लोगों की सवारी के लिए डिब्बे नहीं होंगे। यदि भाजपा शासित राज्यों में हत्याओं की संख्या और दलितों व महिलाओं पर हमलों को देखें तो ये इंजन बहुत धीमी रफ्तार से चलेंगे।’ मंत्री ने कहा, ‘… वे यह नहीं बता रहे हैं कि कैसे उसकी सरकार (भाजपा) रेलवे को निजी हाथों में सौंपने के एजेंडे पर काम कर रही है। भगवा पार्टी बंगाल में भी कुछ ऐसा करना चाहती है। वह बस कॉरपोरेट घरानों के हित में काम रही है।’

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

उन्होंने भाजपा पर मतुआ समुदाय से झूठा वादा करने और यूपी व मध्यप्रदेश जैसे राज्यों में पिछड़ी जातियों के साथ भेदभाव बरते जाने का आरोप लगाया। हाल ही में गृह मंत्री अमित शाह ने मतुआ समुदाय के सदस्यों को नागरिकता का आश्वासन दिया था। मूल रूप से पूर्वी पाकिस्तान के रहने वाले मतुआ हिंदुओं में कमजोर वर्ग हैं जो विभाजन के दौरान और बांग्लादेश बनने के बाद भारत आए थे। उनमें से कई को नागरिकता मिल गई और बहुतों को नहीं मिली।

चुनाव आयोग द्वारा विधानसभा चुनाव की तारीखें घोषित किए जाने के बारे में पूछे जाने पर बसु ने कहा, ‘हम तैयार हैं। हमें आयोग द्वारा घोषित चरणों की संख्या से कोई दिक्कत नहीं है। हम तो पिछले 10 सालों से 365 दिन लोगों के बीच हैं।’ इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया था कि राज्य में आठ चरणों में चुनाव कराने का फैसला चुनाव आयोग ने भाजपा के कहने पर लिया है। उन्होंने कहा था कि केंद्र अपनी ताकत का दुरुपयोग कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here