• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Weather update:कड़ाके की ठंड के साथ कनकनी जारी,हल्की बारिश की संभावना

1 min read

पटना:  बिहार में कड़ाके की ठंड के साथ कनकनी जारी रहेगी. राज्य के कुछ स्थानों पर बीते दिनों अचानक बारिश ने ठंड के प्रकोप को बढ़ा दिया है. ऐसे में मौसम विज्ञान केंद्र ने बिहार (Weather Update of Bihar) के विभिन्न हिस्सों में आगामी दो से चार दिनों तक शुष्क बने होने के साथ सुबह के समय में घना कोहरा छाए रहने की आशंका जताई है. साथ ही मौसम विभाग ने अलग-अलग स्थानों पर 25 जनवरी तक हल्की बारिश की संभावना भी (Rain Alert in Bihar) जताई है.

बिहार में हाड़ कंपा देने वाली ठंड ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है. दिन में भी पछुआ हवा से कनकनी और बढ़ गई है, ऐसे में लोग ठिठुरते हुए अलाव का सहारा ले रहे हैं. पछुआ हवा से पटना सहित पूरे प्रदेश के अधिकतर जिलों में कोल्ड डे (Cold Day In Bihar) की स्थिति बनी हुई है. पिछले 24 घंटों में पटना, गया, छपरा, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, पूर्वी चंपारण में कोल्ड डे की स्थिति बनी रही. प्रदेश के लगभग 13 जिलों में न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है. मौसम अगले चार दिनों तक कुछ इसी तरह रहने का अनुमान है. पछुआ हवा से ठंड और बढ़ेगी. वहीं, मौसम पूर्वानुमान में 23 जनवरी को हल्की वर्षा होने की संभावना जतायी गयी है.

यह भी पढ़े….Weather update:हाड़ कंपाने वाली कनकनी ने तोड़े रिकॉर्ड,अगले तीन दिनों तक ठंड और बढ़ने की आशंका

मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, राज्य के पश्चिम एवं दक्षिण मध्य भाग के पटना समेत गया में कोल्ड डे की स्थिति बने रहने का पूर्वानुमान है. लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी गई है. कोहरे में लिपटी सर्द रातों में रिक्शाचालक, दैनिक मजदूर और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए रैनबसेरों की अहमियत और भी बढ़ जाती है. जिस तरह से मौसम ने अपना रूख बदला है और ठंड जिस तरह से बढ़ी है, ऐसे में बच्चों और बुजुर्गों को लेकर खास ख्याल रखने की जरूरत है. थोड़ी सी भी लापरवाही सेहत पर भारी पड़ सकता है. आम लोगों के मुकाबले छोटे बच्चे और बुजुर्गों में प्रतिरोधक क्षमता कम होती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें