Virology : कोरोना के बेहतर इलाज के लिए वायरोलॉजी लैब की स्थापना शीघ्र होगी- सांसद…

Virology : कोरोना के बेहतर इलाज के लिए वायरोलॉजी लैब की स्थापना शीघ्र होगी- सांसद…

  • पूरे राजमहल लोकसभा के लिए यह लैब जल्द तैयार हो जाएगा। जहां लोग अपना इलाज करवा सकेंगे।
  • इस कोरोना संक्रमणकाल में डिस्टेंस के साथ रहना तो जरूरी है पर काम भी करना ही होगा।

NEWSTODAY साहिबगंज : सांसद विजय हाँसदा ने पाकुड़ परिसदन में पत्रकारों को बताया कि इस कोरोना से रोकथाम के लिये सांसद निधि से साहिबगंज जिला में वायरोलॉजी लैब की तैयारी जारी है। पूरे राजमहल लोकसभा के लिए यह लैब जल्द तैयार हो जाएगा। जहां लोग अपना इलाज करवा सकेंगे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : पर्यावरण संरक्षण मुहिम चलने वाली महिला अमृता देवी की बलिदान दिवस पर वृक्ष लगा कर इसे पर्यावरण दिवस मनाया गया…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

कोविड-19 संक्रमण के बाद भी यह इंफ्रास्ट्रक्चर यहां के लोगों के लिए मौजूद रहेगा, जिसका इस्तेमाल क्षेत्र के लोग कर सकेंगे। इस कोरोना संक्रमणकाल में डिस्टेंस के साथ रहना तो जरूरी है पर काम भी करना ही होगा। कहीं कोई कमी या कमजोरी है तो आप हमें बताएं उसे सुधार किया जाएगा।

यह भी पढ़े…Monsoon knock : मुसलाधार बारिश ने गरीब का आशियाँ उजाड़ा , मौनसून के दस्तक के साथ ही एक ओर जहाँ बाढ़ अपनी विभीषिका की चरम…

झारखंड सरकार बनने के 20 साल के दौरान स्वास्थ्य व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया था। व्यवस्था कमजोर रहने के कारण समस्याएं बढ़ी है। हेमंत सरकार स्वास्थ्य व्यवस्था को ठीक कर रही है। संक्रमण के कारण काम की गति थोड़ी धीमी जरूर है, परंतु धीरे-धीरे काम चल रहा है। दूसरे राज्य की तुलना में कोरोना संक्रमण काल में हमारी सरकार हर क्षेत्र में काम की है।

यह भी पढ़े…Protest : नीट-जेईई परीक्षाएं कराने के खिलाफ कांग्रेस ने अभियान चलाया , राहुल गांधी ने किया ट्वीट…

लोगों को राशन देने या फिर अन्य प्रदेश से लोगों को लाने की बात हो सरकार ने हर क्षेत्र में संवेदनशील भावना के साथ काम किया है। आगे उन्होंने कहा कि साहिबगंज में गंगापुल निर्माण और राष्ट्रीय राजमार्ग की जर्जर स्थिति को लेकर कई बार पत्र लिखा गया है। यह केंद्र की योजना है। झारखंड राज्य में योजना निकालने में केंद्र सरकार की रुचि नहीं है,परंतु राज्यहित में राज्य सरकार को जो भी निर्णय लेना पड़ेगा वह लिया जाएगा।

यह भी पढ़े…Pranab Mukherjee : पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अब भी गहरे कोमा में हैं , ‘हिमोडायनामिकल्ली’ स्थिर होने से तात्पर्य है…

इस बार राज्य सरकार के बढ़ते दवाब के कारण भारत सरकार के कोयला मंत्री को बातचीत के लिए झारखंड आना पड़ा है। पिछली सरकार के समय से ही राजकोष खाली है,वर्तमान सरकार कोष को सुधारने में लगी है। हमारा जीएसटी और कोल इंडिया का पैसा केंद्र सरकार के पास बकाया है। इसके बावजूद सभी प्रकार की योजनाओं को गति दी जा रही है। बाहर काम करने वाले मजदूर जितने भी अपने प्रदेश में लौटे हैं सभी को काम देने की योजना चल रही है।एक सवाल के जवाब में सांसद ने कहा कि बड़े बड़े बड़े संस्थान कोरोना काल में कोई रिस्क लेना नहीं चाहती है,ऐसे में जेईई और नीट की परीक्षा से संक्रमण बढ़ सकता है।

यह भी पढ़े…Road accident : बेलगाम अवैध बालू लदा ट्रेक्टर ने दो छात्र को कुचला , लोगो ने सड़क जाम कर बालू माफियाओं के खिलाफ जाम कर प्रदर्शन किया…

जब केंद्र सरकार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है तो राज्य सरकार क्यों रिस्क लेगी। बिजली के मामले में उन्होंने कहा कि हम लगातार राज्य सरकार के संपर्क में है। लोग अपनी समस्याओं से अवगत करा रहे हैं। इसे स्वीकार करते हैं। विगत वर्ष की तुलना में इस वर्ष आंधी तूफान और बारिश ज्यादा होने से ऐसी स्थिति हुई है,इसे ठीक किया जा रहा है।

यह भी पढ़े…Supreme Court’s decision : विश्वविद्यालयों के फाइनल ईयर के एग्जाम होंगे, सुप्रीम कोर्ट ने UGC के पक्ष में दिया फैसला…

मनरेगा कर्मियों की मांग उचित है पर हड़ताल करने का यह सही समय नहीं है। जनता के बीच में इस विकट समस्या के समय कार्य को रोकना उचित नहीं है। मेरा उन से निवेदन है कि हेमंत सरकार पर भरोसा रखिए आप की मांगों पर निश्चित रूप से विचार किया जाएगा। इस मौके पर झामुमो जिलाध्यक्ष श्याम यादव, जिला सचिव समद अली, जिला प्रवक्ता शाहिद इकबाल, अम्लान कुसुम सिन्हा,जिला अल्पसंख्यक अध्यक्ष हाविबुर रहमान, प्रखंड उपाध्यक्ष मुसलोउद्दीन शेख, नगर अध्यक्ष मनोज ठाकुर, प्रखंड अध्यक्ष अब्दुल उदूद, प्रखंड अध्यक्ष सुलेमान बास्की आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here