Tribute : पीएम मोदी ने महात्मा गाँधी और शास्त्री जी को दी श्रद्धांजलि…

0
न्यूज़ सुने

Tribute : पीएम मोदी ने महात्मा गाँधी और शास्त्री जी को दी श्रद्धांजलि…

NEWSTODAYJ नई दिल्ली : आज लाल बहादुर शास्त्री और महात्मा गाँधी की जयंती है, दोनों नेताओं का देश के लिए योगदान अतुलनीय था। आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है, इसी कड़ी में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजघाट जाकर महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें याद करने के अलावा उनकी दी हुई सीख का भी उल्लेख किया। इसके अलावा उन्होंने विजयघाट पर लाल बहादुर शास्त्री को भी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी के साथ गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत अन्य नेता भी मौजूद थे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : ग्रीन राशन कार्ड : आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर 2020 तक…

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजघाट पर महात्मा गाँधी के सामने सिर झुकाया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा विजयघाट पर देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा उन्होंने महात्मा गाँधी का एक वीडियो भी ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “गाँधी जयंती के अवसर पर हम बापू के सामने सिर झुकाते हैं। महात्मा गाँधी के जीवन और महान विचारों से बहुत कुछ सीखा जा सकता है। हम आशा करते हैं कि बापू के आदर्श एक समृद्ध और दयालु भारत बनाने में मदद करेंगे।”

प्रधानमंत्री मोदी ने लाल बहादुर शास्त्री का वीडियो साझा करते हुए उन्हें भी नमन किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “लाल बहादुर शास्त्री जी विनम्र और दृढ़ निश्चय वाले व्यक्ति थे। वह सादगी के प्रतीक थे और वह हमेशा देश की भलाई के लिए जिये। उनकी जयंती के अवसर पर हम हृदय तल की गहराइयों से उनका सम्मान करते हैं, हर उस काम के लिए जो उन्होंने देश की भलाई के लिए किया है।”

वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी उन्हें महात्मा गाँधी की जयंती की पूर्व संध्या पर अपने विचार रखे। उन्होंने कहा, “सरकार जितने भी बड़े कदम उठाती है वह पूरी तरह महात्मा गाँधी की शिक्षा और विचारों से प्रेरित होते हैं।” मोदी सरकार द्वारा देश के लिए किए गए कई उल्लेखनीय प्रयास जैसे महिला सशक्तिकरण, स्वच्छ भारत अभियान, गरीबों और दलितों को सशक्त बनाना किसानों की सहायता और गाँवों में आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराना, इन सभी प्रयासों पर राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें इस बात की प्रसन्नता है कि गाँधी जी की शिक्षा ही उनकी सरकार का आधार है। इसके अलावा राष्ट्रपति ने नैतिकता और लक्ष्यों की शुद्धि पर भी बहुत महत्त्व दिया।

राष्ट्रपति ने कहा, “आइए हम राष्ट्र के कल्याण और प्रगति के लिए खुद को फिर से समर्पित करने का संकल्प लें, सत्य और अहिंसा के मार्ग का पालन करें। स्वच्छ, सक्षम, समृद्ध और मज़बूत भारत के निर्माण का संकल्प लें और महात्मा गाँधी के सपनों को सच में तब्दील करें। हमारे राष्ट्रपति महात्मा गाँधी की 151वीं जयंती के अवसर पर मैं कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। उनकी जीवन शैली समाज के कमज़ोर लोगों को सशक्त और मज़बूत बनाने का ज़रिया है।

उनके द्वारा दिए गए सत्य और अहिंसा के संदेश से समाज में समरसता और समानता का मार्ग प्रशस्त होता है।अंत में लाल बहादुर शास्त्री को याद करते हुए उन्होंने कहा, “देश के पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती पर हम उन्हें याद करें, इस देश के एक महान पुत्र जिन्होंने देश के लिए प्रत्याशित रूप से समर्पित थे। चाहे हरित क्रांति हो या श्वेत क्रांति, दोनों में उनकी अहम भूमिका और अद्भुत लीडरशिप देश के लिए हमेशा प्रेरणादायी बनी रहेगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here