TRIBUTE : दिवंगत आईपीएस आलोक के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी मुख्यमंत्री…

0
न्यूज़ सुने

TRIBUTE : दिवंगत आईपीएस आलोक के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी मुख्यमंत्री…

  • आलोक के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
  • आलोक वर्ष 1999 में बीपीएससी से बहाल हुए थे. खूंटी एसपी रहने के दौरान आलोक तबीयत खराब होने की वजह से छुट्टी पर चले गये थे।

NEWSTODAYJ रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार को जैप-1 ग्राउंड डोरंडा में दिवंगत आइपीएस आलोक को श्रद्धांजलि दी।उन्होंने आलोक के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आइपीएस आलोक के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी।

यह भी पढ़े…Problem : पुल ढहने से आम जन मानस परेशान , युवा नेता ने नगर निगम अधिकारी व वार्ड पार्षद पर खानापूर्ति का लगया आरोप…

मुख्यमंत्री के अलावा डीजीपी एमवी राव समेत कई पुलिस अधिकारियों ने आलोक को श्रद्धांजलि अर्पित की।आइपीएस आलोक कैंसर से पीड़ित थे।मंगलवार की देर रात उनका निधन हो गया।आलोक हाल में ही अपना इलाज करवा कर ताइवान से रांची लौटे थे।आइपीएस आलोक की छवि एक ईमानदार अफसर की थी।वे झारखंड के खूंटी और गढ़वा में एसपी रह चुके थे।

यह भी पढ़े…MISBEHAVIOR : आम जनों की आवाज दबने नहीं दी जाएगी, अफसरों की हिटलर नीति बर्दास्त नहीं – जेएमएम जिला उपाध्यक्ष…

आलोक मूल रूप से रांची के रहने वाले थे।सयुंक्त बिहार के दौरान डीएसपी बने थे आलोक आलोक सयुंक्त बिहार के दौरान डीएसपी बने थे। झारखंड अलग होने के बाद आलोक झारखंड कैडर में आ गये थे।1 मार्च 2016 को उन्हें आइपीएस रैंक में प्रोन्नति मिली थी।वह 2010 बैच के आइपीएस थे।

यह भी पढ़े…SUICIDE : नव विवाहिता जोड़ी ने फांसी लगाकर आत्म हत्या कर लिया पुलिस जुटी जांच में…

आलोक वर्ष 1999 में बीपीएससी से बहाल हुए थे. खूंटी एसपी रहने के दौरान आलोक तबीयत खराब होने की वजह से छुट्टी पर चले गये थे. बीते वर्ष 1 अक्टूबर 2019 को आलोक को छुट्टी से वापस आने के बाद पुलिस मुख्यालय में अपना योगदान देने का निर्देश दिया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here