Tree damaged : वनों की अंधाधुंध कटाई कर दर्जनों पेड़ो को किया क्षतिग्रस्त…

1 min read

Tree damaged : वनों की अंधाधुंध कटाई कर दर्जनों पेड़ो को किया क्षतिग्रस्त…

NEWSTODAYJ : देवघर जिले के खोरीपानन बिट के बड़की खड़खाड़ वन क्षेत्र अंतर्गत दल्लूरायडीह गांव के इस्लामपुर टोला वासियों ने करीब पांच दर्जन मोटे-मोटे अरकसिया का पेड़ काटकर छिपा दिया। साथ ही दर्जनभर से अधिक अरकसिया पेड़ को क्षतिग्रस्त कर दिया है। जिले के देवीपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत दल्लूरायडीह के इस्लामपुर टोला जंगल पहाड़ी की तराई में अवस्थित है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : संविधान ही वो पुस्तक है, जिसने हमें एक सूत्र में पिरो कर रखा है – मुख्यमंत्री…

जहाँ विभाग द्वारा कई हेक्टेयर वन भूमि पर 10-15 वर्ष पहले अरकसिया का पेड़ लगाए गए हैंलेकिन इस्लामपुर टोला निवासी करीब 30 से 40 की संख्या में महिला-पुरुष मिलकर वनों की अंधाधुंध कटाई कर डाला। जिसमें वनों की काफी क्षति हुई है। टोले निवासी ने टंगा- टांगी व आरी से काटकर सभी पेड़ों को बैलों के सहारे अपने-अपने घरों के आसपास ले जाकर खेत-खलिहानों, नालों व झाड़ियों में छुपा दिया। साथ ही पुआल ओर पतों से उसे ढक दिया। यह पर्यावरण विनाश का खेल गत गुरुवार दिन-रात तक चलता रहा। विभाग के अधिकारियों को घटना की सूचना मिलने पर वनकर्मी घटनास्थल पर पहुंच कर काटे गए अरकसिया पेड़ों को जप्त करने के जुट गए हैं। लगातार दो दिन गत शुक्रवार व शनिवार को कई मजदूरों के सहारे काटे गए पेड़ों में से आधा से अधिक पेड़ों को जप्त कर दो टैक्टर व एक पिकअप भैन बीट ऑफिस ले गया।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : डॉ की सुरक्षा को लेकर सरकार प्रतिबद्ध, कोरोना में उनकी भूमिका सराहनीय…

जबकि दर्जनों पेड़ अब भी जप्त करना बांकी रह गया है। साथ ही पेड़ों को काटने के लिए प्रयुक्त औजार टांगा-टांगी व आरी को जप्त नहीं कर सका है।आप इससे भी अंदाजा लगा सकते हैं कि इस्लामपुर टोले के लोगों ने कितना दुस्साहस किया होगा। काटे गए पेड़ों की मोटाई वनकर्मियों द्वारा 3 से 4 फिट व 20 से 30 फिट लंबाई मापा गया। ग्रामीणों ने बताया कि दूसरे टोले के लोग पेड़ों को काटने का विरोध नहीं करता तो वहाँ लगे सैकड़ों पेड़ों की कटाई हो गई होती। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि घरेलू काम के लिए एक-दो अरकसिया के पेड़ को काट लिया जाता था। वहीं उसका उपयोग जलावन के रूप में किया जाता था। परंतु इस बार समूचे जंगल को साफ करने में लग गया था। बताया जाता है कि इस टोले में करीब एक दर्जन घर हैं। जो घरों के सभी सदस्यों ने मिलजुल कर घटना को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़े…Opium smuggler arrested : पुलिस को मिली सफलता , तीन अफीम तस्कर गिरफ्तार,सवा लाख नकद सहित मोबाइल व बाइक किया बरामद…

पेड़ों को काटकर छुपाने के टोले वासी में से छोटू उर्फ जावेद अंसारी, खुर्शीद अंसारी, अख्तर उर्फ अब्दुल कलाम अंसारी, मंगर उर्फ सलमान अंसारी, बुधन उर्फ बदरुद्दीन अंसारी, सफ़ाउल अंसारी, मंटू उर्फ सनाउल अंसारी, सदीक मियां, मुमताज अंसारी, फिरोज आलम, कुलिया बीबी, तेहरा बीबी, जेरुन बीबी, जाकिर मियां, हफीजुल बीबी, हारून मियां, झलकी बीबी, सहाबुद्दीन अंसारी, सगीर मियां, कोसर बीबी, तिखनी देवी, सकीला बीबी, सफीक मियां, मजीद मियां, हाजरा बीबी आदि शामिल थे।वन अधिकारियों ने उक्त दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.