The meeting : सभी प्रखंडों में जन्म – मृत्यु का निबंधन आनलाइन करें शुरू – उपायुक्त…

  • समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने गुरुवार को जिला स्तरीय समन्वय समिति (जन्म – मृत्यु) की बैठक की।
  • जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनी देवी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी महेश कुमार,जिला कल्याण पदाधिकारी विजून उरांव एवं सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार उपस्थित थे।

NEWSTODAYJ पाकुड़ : उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने किया जिला स्तरीय समन्वय समिति (जन्म – मृत्यु) की बैठक, संबंधित विभागों के पदाधिकारियों को दिया जरूरी दिशा निर्देश। समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने गुरुवार को जिला स्तरीय समन्वय समिति (जन्म – मृत्यु) की बैठक की।

यह भी पढ़े…Illegal coal raids : पुलिस ने चोरी की गई करीब 310 टन अवैध कोयले को किया जब्त , SP ने ग्रमीणों से की अपील …

बैठक में जिला सांख्यिकी पदाधिकारी आर के प्रसाद, जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनी देवी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी महेश कुमार,जिला कल्याण पदाधिकारी विजून उरांव एवं सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार उपस्थित थे । बैठक को संबोधित करते हुए उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने कहा कि जन्म एवं मत्यु का पंजीयन अति आवश्यक है।

यह भी पढ़े…Avoid monsoon : आकाशीय बिजली से बचाव को बरतें सावधानी, खुद को रखें सुरक्षित – उपायुक्त…

इसमें स्वास्थ्य एवं जिला पंचायती राज विभाग का रोल अहम हैं। कहा कि पंचायत स्तर पर पंचायत सेवकों को ही इसके लिए रजिस्टार बनाया गया है। उन्होंने कहा कि पाकुड़, हिरणपुर एवं लिट्टीपाड़ा में आन लाइन निबंधन कार्य शुरू हो गया है। शेष प्रखंडों अमरापाड़ा, महेशपुर एवं लिट्टीपाड़ा में अविलंब इसे शुरू करें। उन्होंने बैठक में उपस्थित जिला पंचायती राज पदाधिकारी को सभी पंचायत सेवकों के साथ बैठक कर उन्हें पुरी प्रक्रिया से अवगत कराने का निर्देश दिया।

यह भी पढ़े…Commotion in hospital : कोविड-19 अस्पताल में घटिया खाना देने को लेकर मरीजों ने किया हंगामा…

शेष प्रखंडों में अविलंब आन लाइन निबंधन शुरू कराएं। उन्होंने शेष प्रखंडों में अविलंब आन लाइन निबंधन शुरू कराएं। साथ ही प्रत्येक माह का जन्म मृत्यु का मासिक प्रतिवेदन अगले माह के पांच तारीख तक जिला सांख्यिकी कार्यालय पाकुड़ को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। जिला कल्याण पदाधिकारी एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को विभाग द्वारा संचालित योजनाओं, विद्यालयों में नामंकन आदि में लाभुकों से

यह भी पढ़े…Suicide : महिला ने फाँसी लगा कर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली , जांच में जुटी पुलिस…

आवश्यकतानुसार जन्म प्रमाण पत्र की मांग करें। वहीं, अभिभावकों के मृत्यु होने पर मृत्यु प्रमाण पत्र की मांग करें। इससे लोगों में जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र की आवश्यकता, महत्व एवं जन्म म मृत्यु निबंधन के संबंध में जागरूकता आएगी।

यह भी पढ़े…Ranchi News : रिम्स में भर्ती लालू प्रसाद से करेंगे मुलाकात तेजप्रताप ,स्वास्थ्य की जानकारी लेंगे , बिहार की राजनीति पर भी होगी चर्चा…

उपायुक्त ने सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी को जिला अंतर्गत कल्याणकारी योजनाओं एवं अन्य प्रचार प्रसार के लिए लगाये जाने वाले होर्डिंग के नीचे / ऊपर जन्म मृत्यु निबंधन संबंधित स्लोगन लिखने का निर्देश दिया। कहा कि इससे भी लोगों में जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र की आवश्यकता, महत्व एवं जन्म मृत्यु निबंधन के संबंध में जागरूकता आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *