• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Supreme Court’s decision : एमवी राव बने रहेंगे झारखंड के डीजीपी,SC ने खारिज की याचिका…

1 min read

Supreme Court’s decision : एमवी राव बने रहेंगे झारखंड के डीजीपी,SC ने खारिज की याचिका…

  • सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि यह सर्विस मैटर से जुड़ा मामला है।इसे जनहित याचिका नहीं माना जा सकता।
  • झारखंड सरकार की ओर से उच्चतम न्यायालय में वरिष्ठ अधिवक्ता फली एस नरीमन, महाधिवक्ता राजीव रंजन ने बहस की।

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड के डीजीपी एमवी राव बने रहेंगे।इनकी नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है।सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि यह सर्विस मैटर से जुड़ा मामला है।इसे जनहित याचिका नहीं माना जा सकता।सुप्रीम कोर्ट में प्रह्लाद सिंह ने याचिका दाखिल कर डीजीपी की नियुक्ति को चुनौती दी थी।

यह भी पढ़े…Declaration of movement : निगम कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेगे , भारतीय मजदूर यूनिनन ने आंदोलन छेड़ने का एलान किया…

आज करीब 15 मिनट तक चली सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने अपना फैसला सुनाते हुए याचिका को खारिज करते हुए याचिका को निष्पादित कर दिया है।झारखंड सरकार की ओर से उच्चतम न्यायालय में वरिष्ठ अधिवक्ता फली एस नरीमन, महाधिवक्ता राजीव रंजन ने बहस की।प्रह्लाद सिंह की तरफ से सीनियर अधिवक्ता वेंकट रमण हाजिर थे।

यह भी पढ़े…Crime : शिक्षक के आवास से लाखों की चोरी , लोगो ने कहा पेट्रोलिंग के नाम पर खानापूर्ति…

सुप्रीम कोर्ट में झारखंड सरकार के महाधिवक्ता ने कहा कि प्रह्लाद नारायण सिंह द्वारा दायर जनहित याचिका मेंटेनेबल नहीं है। यूपीएससी के पैनल से नाम आयेगा तो सरकार डीजीपी की स्थायी नियुक्ति करेगी।आपको बता दें कि 13 मार्च को राज्य सरकार ने पूर्व डीजीपी कमल नयन चौबे का तबादला कर दिया था।उनकी जगह एमवी राव को डीजीपी बनाया गया था।इस मामले में प्रह्लाद नारायण सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर नियुक्ति को चुनौती दी थी।

यह भी पढ़े…Development work in the ward : समाजसेवी करवाएंगे वार्ड 17 की साफ सफाई एवं विकास की कार्य , साफ सफाई में लगे जितेंद्र कुमार…

झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार द्वारा डीजीपी के लिए तीन अधिकारियों के नाम का पैनल बनाने के लिए पांच अधिकारियों के नामों की सूची यूपीएससी को भेजी गयी थी, तो यूपीएससी ने इस पर आपत्ति जता दी थी।इस दौरान यूपीएससी द्वारा पूछा गया था कि कमल नयन चौबे को दो साल से पहले कैसे हटाया गया। सरकार ने अपना पक्ष यूपीएससी को भेज दिया है।इसमें कमल नयन चौबे को डीजीपी के पद से हटाने का कारण भी बताया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.