Smuggling racket : गोल्ड स्मगलिंग रैकेट का खुलासा , 86 किलो से ज्यादा के वजन के सोने के बिस्किट जब्त, 8 आरोपी गिरफ्तार…

  • इस सोने की कीमत 43 करोड़ रुपये तक आंकी जा रही है।डीआरआई के अधिकारियों के मुताबिक एक खुफिया जानकारी के आधार पर वो सोने की तस्करी करने वाले एक अंतरराष्ट्रीय गैंग की पिछले एक महीने से जांच कर रहे थे।
  • डीआरआई को पता चला है कि बरामद किए गए सोने के बिस्किटों पर विदेशी मार्क लगा हुआ था।पूछताछ में मालूम हुआ कि सभी 8 लोग फर्जी आधार कार्ड लेकर यात्रा कर रहे थे।

NEWSTODAYJ (एजेंसी) नई दिल्ली : म्यांमार से तस्करी करके भारत लाया गया 43 करोड़ रुपये का सोना नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर जब्त किया और आठ लोगों को गिरफ्तार किया।इस सोने की कीमत 43 करोड़ रुपये तक आंकी जा रही है।डीआरआई के अधिकारियों के मुताबिक एक खुफिया जानकारी के आधार पर वो सोने की तस्करी करने वाले एक अंतरराष्ट्रीय गैंग की

यह भी पढ़े…Jamu&kasmir : मुठभेड़ में 3 आतंकवादी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीद…

पिछले एक महीने से जांच कर रहे थे।इसी मामले में नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर डिब्रूगढ़ से आई राजधानी एक्सप्रेस में छापा मारा गया।इस छापे में ट्रेन में बैठे आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया।अरेस्ट किए गए लोगों के पास से सोने के 504 बिस्किट बरामद किए गए।जिनका वजन 86 किलोग्राम से ज्यादा है।

यह भी पढ़े…Mind matter : प्रधानमंत्री 68वां बार मन की बात आज करेंगे , जानिए क्या कुछ रहेगी खास…

इस सोने की कीमत 43 करोड़ रुपये है।बता दें कि सोने को छुपाने के लिए खासतौर पर ऐसे कपड़े बनवाए जाते हैं।जिनमें छुपाकर आसानी से सोने की स्मगलिंग की जा सके. इसके लिए महाराष्ट्र के गरीब लोगों को जल्दी पैसा कमाने का लालच देकर स्मगलिंग के रैकेट में शामिल किया जाता है. अब डीआरआई उन लोगों की पहचान करने में जुटी है जो गोल्ड की स्मगलिंग करवाते हैं।डीआरआई को पता चला है।

यह भी पढ़े…Criminal arrested : अपराध की योजना बना रहे चार अपराधी गिरफ्तार , पहाड़ के पीछे रच रहे थे प्लालिंग , पुलिस छापेमारी कर हथियार बरामद किया…

कि बरामद किए गए सोने के बिस्किटों पर विदेशी मार्क लगा हुआ था।पूछताछ में मालूम हुआ कि सभी 8 लोग फर्जी आधार कार्ड लेकर यात्रा कर रहे थे. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि ये सोना म्यांमार से मणिपुर और गुवाहाटी होते हुए दिल्ली आया था।इस सोने को दिल्ली, मुंबई और कोलकाता में कुछ लोगों को सप्लाई करना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *