Revolution day 2020 : हमेशा अपनी हक के लिए लड़ते हैं आदिवासी, उनको सनातन धर्म में बदलना चाहती है भाजपा – कांग्रेस…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

Revolution day 2020 : हमेशा अपनी हक के लिए लड़ते हैं आदिवासी, उनको सनातन धर्म में बदलना चाहती है भाजपा – कांग्रेस…

  • 9 अगस्त को क्रांति दिवस के अवसर पर पर मोराहाबादी बापू वाटिका में गांधी जी की प्रतिमा पर उन्हें याद कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया गया।
  • झारखंड के परिप्रेक्ष्य में इसका विशेष महत्व है।आदिवासी समाज हमेशा से अपने अधिकारों के लिए लड़ता रहा है।

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड कांग्रेस कमिटी की ओर से 9 अगस्त को क्रांति दिवस के अवसर पर पर मोराहाबादी बापू वाटिका में गांधी जी की प्रतिमा पर उन्हें याद कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया गया। इस दौरान रामेश्वर उरांव ने कहा अंग्रेजों को भारत छोड़ने के लिए खुला आह्वान किया गया था।हम सबों को गांधी जी के बताये रास्ते पर ही चलना होगा, तभी हम सभी का सही रूप से विकास हो सकता है।

यह भी पढ़े…Quit India Movement 2020 : भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर राष्ट्रपिता को दी श्रद्धांजलि…

वही ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि आज विश्व आदिवासी दिवस भी है।झारखंड के परिप्रेक्ष्य में इसका विशेष महत्व है।आदिवासी समाज हमेशा से अपने अधिकारों के लिए लड़ता रहा है।सिर्फ अधिकार के लिए नहीं बल्कि देश की आजादी में भी आदिवासियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

यह भी पढ़े…World Tribal Day 2020 : विश्‍व आदिवासी दिवस पर 9 अगस्‍त को झारखंड में राजकीय अवकाश घोषित…

उन्होंने कहा कि हमेशा से आदिवासी जल जंगल और जमीन की रक्षा की बात करते रहे हैं ऐसे में उनकी सुरक्षा भी बहुत जरूरी है ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि सरना कोड लागू करने की मांग लगातार होती रही है ऐसे में हमारी सरकार इस विषय को लेकर बहुत ही गंभीर है बहुत जल्द इस पर उचित निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़े…Crime : पारिवारिक विवाद में 4 वर्षीय बच्चे को अपहरण कर, किया हत्या, 48 घंटे बाद मिला शव…

पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि आदिवासी हमेशा से अपने हक के लिए लड़ाई लड़ता रहा है।अभी भी काफी पिछड़े हुए हैं। ऐसे में उन्हें आगे बढ़ाने की जरूरत है, यह बीजेपी की सरकार आदिवासियों को सनातन धर्म में परिवर्तित करना चाहता है जो कि बिल्कुल ही गलत है।

यह भी पढ़े…Accident : सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान हादसा, ठेकेदार समेत कर्मियों , 6 लोगों की मौत…

वह जिस धर्म में हैं जिस जंगल और जमीन में रहना चाहते हैं उन्हें रहने देना चाहिए।भौतिकवाद की ओर बढ़ते हुए वे आदिवासियों को खत्म करना चाहते हैं।ऐसा हम सभी नहीं होने देंगे।आदिवासी हमेशा से पर्यावरण की सुरक्षा करते रहे हैं।अगर वह नहीं रहेंगे तो पर्यावरण सुरक्षित नहीं रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here