PROBLEM : खुली सरकारी दावों की पोल,गढ्ढों में तब्दील हुए राष्ट्रिय मार्ग , परेशान स्थानीय से राहगीर तक पढ़े पूरी रिपोर्ट…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

PROBLEM : खुली सरकारी दावों की पोल,गढ्ढों में तब्दील हुए राष्ट्रिय मार्ग , परेशान स्थानीय से राहगीर तक पढ़े पूरी रिपोर्ट…

  • टूटी सड़क और बिखरी गिट्टियां राहगीरों को दर्द दे रही हैं। हालत यह है कि पैदल चलना तो दूर वाहन से चलना भी खतरे से खाली नहीं है।
  • कदम-कदम पर बने बेशुमार गड्ढे खतरे को दावत दे रहे हैं। इसी सड़क पर अस्पताल व अन्य प्रतिष्ठान होने से मरीजों, पैदल यात्रियों और छोटे-बड़े वाहनों का आना-जाना लगा रहता है।

NEWSTODAYJ धनबाद : एक तरफ सरकार गढ्ढा मुक्त सडकों की दवा कर रही है तो दुसरी तरफ बड़ा पिछड़ी से NH2 को जोड़ने वाली मुख्य सड़कें खस्ताहाल हैं। टूटी सड़क और बिखरी गिट्टियां राहगीरों को दर्द दे रही हैं। हालत यह है कि पैदल चलना तो दूर वाहन से चलना भी खतरे से खाली नहीं है। प्रशासन राहगीरों की पीड़ा से बेखबर है।अपना वजूद तलाश रही है।

News today jharkhand
राहगीर महिलाएं

कदम-कदम पर बने बेशुमार गड्ढे खतरे को दावत दे रहे हैं। इसी सड़क पर अस्पताल व अन्य प्रतिष्ठान होने से मरीजों, पैदल यात्रियों और छोटे-बड़े वाहनों का आना-जाना लगा रहता है।आपको बता दे रोड गड्ढे में तब्दील , जर्जर रोड से सैकड़ो राहगीरों की हो रही परेशानी।धनबाद जिले के सिंदरी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत बड़ा पिछड़ी, छोटा पिछड़ी, कुर्मिडीह जैसे कई गांवो के हजारो लोगो का मुख्य मार्ग जो NH2 को जोड़ती है।पूरी तरह जर्जर हो चुकी है।

News today jharkhand
सड़क की जर्जर हालत

गड्ढ़े में तब्दील हो चुकी रोड से आने जाने में लोगो की काफी मुश्किलें हो रही है।स्थानीय लोगो ने बताया कि अन्य दिनों में रोड पर चलना तो मुश्किल होता ही है लेकिन खासतौर पर बारिश के दिनों में जलजमाव से बहुत ही अधिक मुश्किल होती है।इस समस्या को लेकर सांसद, विधायक सभी के बताए हैं

News today jharkhand
मुखिया प्रतिनिधि

लेकिन कोई सुध नहीं ले रहे।जर्जर सड़क पर जलजमाव जानलेवा हो सकता है चूंकि पानी में सांप,बिच्छु तैरते हुए नजर आते हैं। कभी भी शाम के अंधेरे में कोई घटना को निमंत्रण दे सकता है।जिला प्रशासन को इस सड़क की शीघ्र मरम्मत कराना चाहिए। जनप्रतिनिधियों को भी इस दिशा में गंभीर प्रयास करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here