Politics : झारखंड विधानसभा भवन की छत गिरने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता ने BJP के खिलाफ तंज कसा…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

Politics : झारखंड विधानसभा भवन की छत गिरने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता ने BJP के खिलाफ तंज कसा…

  • झारखण्ड विधानसभा का भवन रघुवर सरकार के कार्यकाल में 465 करोड़ रूपये की लागत से बनाया गया था।
  • झारखण्ड के विभिन्न जिलों में भाजपा कार्यालय का उद्घाटन अर्थात् राज्य की लूटी गई संपत्ति का प्रदर्शन है।

NEWSTODAYJ : रांची। झारखण्ड कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता आभा सिन्हा ने कहा है कि भाजपा सरकार के दौरान हुए लूट-खसोट का परिचायक बना है नये विधानसभा भवन के सीलिंग का गिरना, जो भाजपा सरकार के दौरान हुए सभी कार्यों के प्रति प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। सिन्हा ने शनिवार को कहा कि झारखण्ड विधानसभा का भवन रघुवर सरकार के कार्यकाल में 465 करोड़ रूपये की लागत से बनाया गया था। जिसका काम आनन-फानन में किया गया था और करोड़ों रूपये का बंदरबांट किया गया, जो जांच का विषय है।

यह भी पढ़े…Crime: अपहृत नाबालिग को पुलिस ने कराया मुक्त, आरोपी फरार , गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रहे छापेमारी…

उन्होंने कहा कि झारखण्ड के विभिन्न जिलों में भाजपा कार्यालय का उद्घाटन अर्थात् राज्य की लूटी गई संपत्ति का प्रदर्शन है। जिसका खाका रघुवर सरकार के शासनकाल के दौरान ही हो चुका था। उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्य के विभिन्न जिलों में आलीशान जिला कार्यालय का उद्घाटन किया, जिसके लिए जनता आश्चर्य कर रही है कि आखिर इतने पैसे भाजपा के पास कहां से आ गये कि वो पूरे प्रदेश में अपने जिलों के अंदर राजसी ठाठबाट का प्रदर्शन कर दिया। एक साथ कई जिलों में नवनिर्मित जिला भाजपा कार्यालय खोल दिये, जिसका खामियाजा झारखण्ड विधानसभा के नये भवन को भुगतना पड़ा।

यह भी पढ़े…Request from central government : केन्द्र सरकार कोविड-19 कोरोना वायरस महामारी को रोकने का प्रयास करे : पी नैयर…

उन्होंने कहा कि पांच वर्षों में भाजपा के रघुवर राज में हुई खुली लूट का प्रतिबिम्ब उसके जिला कार्यालयों से लगाया जा सकता है। यह कार्यालय राज्य की जनता से लूटी गई संपत्तियों से बना है। रघुवर सरकार के कार्यकाल के दौरान विभिन्न योजनाओं एवं निर्माण कार्यों के माध्यम से अनियतिता बरती गयी और जिला कार्यालयों के जमापूॅंजी की गयी, जो भाजपा का सरकार में आने का मुख्य मकसद था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here