• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Minister of Agriculture : कृषि मंत्री बादल पत्रलेख आज अपने चिर परिचित अंदाज में दिखे…

1 min read

Minister of Agriculture : कृषि मंत्री बादल पत्रलेख आज अपने चिर परिचित अंदाज में दिखे…

NEWSTODAYJ : झारखंड सरकार के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख आज अपने चिर परिचित अंदाज में दिखे देवघर के पर्यटक स्थल नंदन पहाड़ अकेले ही बिना सुरक्षा घेरे के निकल गए पहले व्यायाम किया और उसके बाद स्लम इलाकों में लोगों का हाल-चाल जानने चले गए इस मौके पर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि यह साधारण व्यक्ति हैं और आज मंत्री जरूर बन गए हैं लेकिन अपने जमीन को नहीं छोड़ा इसलिए प्रतिदिन की तरह आज भी यह सुबह में व्यायाम करने चले गए और उसके बाद उन गलियों में भी गए.

यह भी पढ़े…Opposition to privatization of banks : बैंकों के निजीकरण के विरोध , जोरदार प्रदर्शन बैंक कर्मचारियों ने की…

जहां इनका बचपन बीता है उन्होंने कहा है कि यह फकीर है और मंत्री बन जाने के बावजूद भी अपनी जमीनी हकीकत नहीं भूले हैं उन्होंने कहा कि कल यह हाजी हुसैन अंसारी के सुपुर्द ए खाक में शामिल होने आए थे उसके बाद देर रात देवघर पहुंचे आज व्यायाम किया अपनों से मुलाकात की इनकी बातों को कैबिनेट में रखेंगे और इनके मांगों को भी पूरा करेंगे इसके अलावा उन्होंने कहा कि शाम तक कहां जाना है यह भी इन्हें पता नहीं जहां लोग बुला लेते हैं चले जाते हैं बादल पत्रलेख ने कहा है कि शुरू से यह सामान्य व्यक्ति की तरह जीते हैं और आगे भी ऐसे ही जीवन शैली को जीने की इच्छा रखते हैं लिहाजा बिना तामझाम और सुरक्षा के यह कहीं निकल जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.