Messing with health : सेहत के साथ खिलवाड़, दूध में मिलावट का हो रहा कारोबार , बड़ा गिरोह का हाथ…

1 min read

Messing with health : सेहत के साथ खिलवाड़, दूध में मिलावट का हो रहा कारोबार , बड़ा गिरोह का हाथ…

  • 17 अगस्त की रात बरही थाना क्षेत्र के देवचंदा मोड़ स्थित देवचंदा दूध संग्रह समिति में पुलिसिया छापे और पकड़े गए पांच आरोपितों ने एक बार फिर इसकी पुष्टि की है।
  • बकायदा इसमें एक बड़ा गिरोह लगा हुआ है। टैंक लॉरी से निकाले गए दूध को बाजार से 30 प्रतिशत कम दामों पर होटलों को उपलब्ध कराया जाता है।

NEWSTODAYJ हजारीबाग : बिहार से झारखंड के विभिन्न जिलों के लिए लाई जा रही दूध में एनएच पर मिलावट किया जा रहा है। सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। 17 अगस्त की रात बरही थाना क्षेत्र के देवचंदा मोड़ स्थित देवचंदा दूध संग्रह समिति में पुलिसिया छापे और पकड़े गए पांच आरोपितों ने एक बार फिर इसकी पुष्टि की है। यह सभी दूध की टैंक लॉरी से दूध निकालते पकड़े गए थे।

यह भी पढ़े…Jharkhand Weather Update: झारखंड राज्य के कई जिले में झमाझम बारिश, दो दिनों तक सक्रिय रहेगा मानसून…


जांच में यह बात सामने आई है कि कई लाइन होटलों में यह दूध पहुंचाया जा रहा था और दूध की लॉरी से निकाले गए दूध की जगह उसमें पानी डाला जा रहा था। बताया जाता है कि बकायदा इसमें एक बड़ा गिरोह लगा हुआ है। टैंक लॉरी से निकाले गए दूध को बाजार से 30 प्रतिशत कम दामों पर होटलों को उपलब्ध कराया जाता है। दूध की मिलावट का सबसे बड़ा केंद्र बरही बन गया है। दूध में मिलावट का यह खेल एनएच दो व 33 पर सुनसान स्थान में बने लाइन होटलों से किया जा रहा है। मिलावट का यह कारोबार चरही से बरही और चौपारण से बगोदर तक किया जाता रहा है।

यह भी पढ़े…Coronavirus : केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत कोरोना पॉजिटिव , ट्वीट कर दी जानकारी…

इस धंधे में लगे लोग समय-समय पर पकड़े भी गए। कई आज भी जेल में है। परंतु यह अवैध कारोबार कम होने की जगह लगातार बढ़ता जा रहा है। चौपारण के दनुआ, सियारकोनी से लेकर डेमोटाड़, चरही, इचाक मोड़, नेशनल पार्क, बरकट्ठा में इस तरह के कई अवैध धंधो का भंडाफोड़ भी हो चुका है।

यह भी पढ़े…Death during illegal mining : बड़ा हादसा अवैध खनन के दौरान ढही बजरी, 12 लोग दबे, 3 लाशें निकाली गईं…

बरही के खालसा होटल में तीन बार पड़ चुका है छापा

एनएच दो पर बरही के बरसोत स्थित खालसा होटल में एक दो बार नहीं बल्कि तीन बार दूध कारोबार का भंडाफोड़ हो चुका है। पहली कार्रवाई 7 अक्टूबर 2014 को हुई थी। पुलिस ने धंधे में शामिल तीन दूध लदे टैंकर जब्त करने के साथ ही दो लोगों को भी गिरफ्तार किया था। दूध से भरी टैंकर पटना से कोलकाता जा रही थी। दूसरी कार्रवाई 29 मई 2015 को हुई थी। पुलिस ने मौके से 35 हजार लीटर दूध से लदे तीन टैंकर नंबर क्रमश : एचआर 55 एम- 4611, जेएच 01 एई – 0712 व जेएच 01 बीई – 0366, टुल्लू पंप, 500 लीटर का गैलन व दो ड्राम जब्त किया था।

2016 में बरही – हजारीबाग रोड पर हुआ था भंडाफोड़

वर्ष 2016 में बरही हजारीबाग के बीच टैंकर से दूध निकालने का भंडाफोड़ एसपी अखिलेश झा ने किया था। उनके निदेश पर एक लाइन होटल से दूध निकालते दो टैंकरों को पकड़ा गया था। इनमें एक टैंकर का नंबर 0712 भी था।

2018 में इचाक और पदमा में हुआ था भंडाफोड़

2018 में भी इचाक नेशनल पार्क और पदमा के बीच बने लाइन होटल में दूध कंटिग कारोबार का भंडाफोड़ किया गया था। यहां तीन लोग और एक वाहन को पकड़़ा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.