MESS SCAM : खुली सरकारी दावों की पोल,गढ्ढों में तब्दील हुए राष्ट्रिय मार्ग…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

खुली सरकारी दावों की पोल,गढ्ढों में तब्दील हुए राष्ट्रिय मार्ग…

  • टूटी सड़क और बिखरी गिट्टियां राहगीरों को दर्द दे रही हैं।
  • कदम-कदम पर बने बेशुमार गड्ढे खतरे को दावत दे रहे

NEWSTODAYJ साहिबगंज : एक तरफ ममता सरकार गढ्ढा मुक्त सडकों की दवा कर रही है तो दुसरी तरफ बरहारवा से फरक्का को जोड़ने वाली मुख्य सड़कें खस्ताहाल हैं। टूटी सड़क और बिखरी गिट्टियां राहगीरों को दर्द दे रही हैं। हालत यह है कि पैदल चलना तो दूर वाहन से चलना भी खतरे से खाली नहीं है। प्रशासन राहगीरों की पीड़ा से बेखबर है।

यह भी पढ़े…CRIME : महिला का शव कुएं में फंदे से लटकता बरामद…

घोड़ायपाड़ा से होकर एन टी पीसी बाइपास तक जाने वाली सड़क अपना वजूद तलाश रही है। कदम-कदम पर बने बेशुमार गड्ढे खतरे को दावत दे रहे हैं। इसी सड़क पर अस्पताल व अन्य प्रतिष्ठान होने से मरीजों, पैदल यात्रियों और छोटे-बड़े वाहनों का आना-जाना लगा रहता है। मेहाँदिडांगा, रामनगर, सिरासीन, फुटानीमोड, लालमाटी, बेवा, घोडाईपाड़ा , निशिन्द्रा सहित दर्जनों गांवों के लोग अपनी जरूरत पूरी करने के लिए इसी सड़क से होकर मार्केट आते हैं। गड्ढे में तब्दील इस सड़क पर गुजरते समय यात्रियों की रुह कांप जाती है। कलेजे पर पत्थर रखकर लोग सड़क की यात्रा पूरी करते हैं। आए दिन पैदल यात्री और वाहन सवार गिला मिट्टी व गिट्टियों के चलते सड़क पर गिर कर घायल होते हैं।बारिश के मौसम में जल जमाव बाद में धुल-कन से हवा में प्रदूषण पैदा करता है । ब्लॉक से लेकर जिले के आला अधिकारी इसी सड़क के गुजरते हैं।

यह भी पढ़े…कसमार के चायवाले की बेटी बनी बोकारो जिला टॉपर

उन्हें जनता की दुर्दशा दिखाई नहीं देती या फिर वे देखना नहीं चाहते। तभी तो 10 किलोमीटर सड़क वर्षों से टूटी सड़क के मरम्मत का कोई प्रयास नहीं होता।खास कर इसी रास्ते से गुजरते वक़्त गढ्ढे मे फंस कर ब्रेकडाउन हो जाता है और बड़ी वाहनों की सात किलो मीटर लम्बी कतारें लग जाती है।

यह भी पढ़े…CORONAVIRUS : सिविल सर्जन कोरोना पॉजिटिव , स्वास्थ्य विभाग में में खलबली….

दुर्गेश गांधी, श्याम बिहारी वर्मा, रवि गुप्ता, दीपक जायसवाल, दीनानाथ गुप्त, सुशील मंडल, गोपी निगम, मुरारी लाल रूंगटा आदि ने बताया कि इतने महत्वपूर्ण मार्ग की बदहाली के लिए लोक निर्माण विभाग जिम्मेदार हैं। उनका कहना है कि शिकायतों पर भी विभाग गंभीरता नहीं दिखाता। प्रशासन को इस सड़क की शीघ्र मरम्मत कराना चाहिए। जनप्रतिनिधियों को भी इस दिशा में गंभीर प्रयास करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here