• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Jharkhand Police : डीजीपी का निर्देश,सभी जिलों के एसएसपी व एसपी जांच कर जर्जर भवनों से तत्काल पुलिसकर्मियों को हटाएं…

1 min read

Jharkhand Police : डीजीपी का निर्देश,सभी जिलों के एसएसपी व एसपी जांच कर जर्जर भवनों से तत्काल पुलिसकर्मियों को हटाएं…

  • सभी जिलों के एसएसपी-एसपी व सभी समादेष्टा को आदेश दिया है कि वे विशेष एहतियात बरतें।
  • बड़ी संकट जनता के सामने उत्पन्न हो गई हो, तो इस स्थिति में अपने पास उपलब्ध संसाधन से उनकी मदद करें।

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड राज्य में लगातार हो रही बारिश और तेज हवा को देखते हुए डीजीपी एमवी राव ने सभी जिलों के एसएसपी-एसपी व सभी समादेष्टा को आदेश दिया है कि वे विशेष एहतियात बरतें। डीजीपी ने जारी आदेश में कहा है कि वैसे पुलिस प्रतिष्ठान, थाना, कार्यालय, आवासीय परिसर, बैरक जहां पानी टपकता है, जो पुराने व कमजोर हो चुके हैं।

यह भी पढ़े…Accused arrested : वन विभाग के एक अधिकारी की पत्नी से छेड़खानी , आरोपी ने जुर्म कबूला…

उसकी तुरंत इंजीनियर से जांच करवा लें। अगर वह सुरक्षित नहीं है, तो उसे तत्काल खाली करवाएं और उसके स्थान पर वैकल्पिक व्यवस्था करें।डीजीपी ने यह भी आदेश दिया है कि अगर जल जमाव या किसी तरह की कोई बड़ी संकट जनता के सामने उत्पन्न हो गई हो, तो इस स्थिति में अपने पास उपलब्ध संसाधन से उनकी मदद करें।

यह भी पढ़े…Migrant Workers: प्रतिदिन वापस लौट रहे हजारों प्रवासी मजदूर,मजदूरों को पेट पालना हुआ मुश्किल…

जिला प्रशासन से संपर्क स्थापित कर भी उनकी सहायता की कोशिश करें। अगर पुलिस मुख्यालय से किसी सहयोग की आवश्यकता हो, तो दूरभाष या कंट्रोल रूम के माध्यम से उनसे (डीजीपी से), आइजी प्रोविजन, आइजी अभियान या आइजी मानवाधिकार से संपर्क करें।

यह भी पढ़े…Coronavirus: देश में कोरोना मरीजों का आकड़ा 29 लाख के पार, मरने वालों की संख्या 55 हजार के करीब…

पुलिस मुख्यालय पहुंचे डीजीपी, अफसरों-शुभचितकों ने दी बधाई

झारखंड में पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) की नियुक्ति को अवैध बताते हुए सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई याचिका खारिज होने के बाद डीजीपी एमवी राव बुधवार को दिल्ली से लौटे और गुरुवार की सुबह पुलिस मुख्यालय पहुंचे।

यह भी पढ़े…Coronavirus : लालू यादव की सुरक्षा में लगे 9 जवान कोरोना पॉजिटिव, रांची रिम्स डायरेक्टर बंगले पर थे तैनात…

वहां अधीनस्थ अफसर सहित कई शुभचितक उनसे मिलने पहुंचे और उन्हें बधाइयां दीं। राज्य सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार तीन दिनों के भीतर कोई हवाई मार्ग से राज्य में वापसी करता है, तो उसे होम क्वारंटाइन की बाध्यता नहीं होगी। यही कारण है कि डीजीपी होम क्वारंटाइन नहीं हैं और वे अपने दैनिक कामकाज निपटा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें