NEWSTODAYJ_जामताड़ा :झारखंड के जामताड़ा से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां पर एक 8 बच्चों के पिता ने अपनी पत्नी को धोखा देकर आठवीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा से शादी कर ली. फिर नाबालिग को अपने घर ले गया जहां उस पर देह व्यापार करने का दबाव डालने लगा. जब लड़की ने इसका विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई और अलग-अलग तरीके से उसे प्रताड़ित किया गया. यह घटना उस समय सामने आई जब पीड़िता अपने घर से किसी तरह से जान बचाकर कामयाब रही और कर्माटांड़ बाजार पहुंची.

यह भी पढ़े…Jharkhand news:महिला ने दो सिर वाली बच्ची को दिया जन्म,बच्ची को देखने वालों का लगा तांता

8 बच्चों के पिता ने की आठवीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा से शादी

 

26 जनवरी 2021 को कोर्ट में शादी करने के बाद जब पीड़िता अपने पति के घर पहुंची तो उसे देखा कि वो पहले ही शादीशुदा है और उसके आठ बच्चे हैं. यह देखकर उसके पैरों से जमीन खिसक गई. इस बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा होने लगा और बात तलाक तक पहुंच गई. इस दौरान लड़की के परिजन अपनी बेटी को लेने उसके ससुराल पहुंचे और 50, 000 रुपये पर तलाक पर सहमति बनीं. लेकिन लड़की के पिता को पैसा नहीं मिला. बावजूद इसके परिजन अपनी बेटी को घर ले गए. कुछ दिन तक सब कुछ ठीक-ठाक रहा लेकिन फिर अचानक आरोपी लड़की के घर पहुंच गया और परिजनों को भरोसा दिलाकर लड़की को अपने साथ ले गया.

 

लड़की पर देह व्यापार का डाला दबाव

 

लड़की को घर लाने के बाद फिर से उसे प्रताड़ित किया जाने लगा. प्रताड़ना से तंग आकर चार दिन पहले उसने घर से भागने का प्रयास किया. लेकिन ट्रेन नहीं मिलने के कारण स्थानीय लोगों ने उसे पकड़ लिया और फिर पति के घर पहुंचा दिया. इसके बाद पति द्वारा उस पर देह व्यापार के लिए दवाब दिया जाने लगा.

 

लड़की को करंट के झटके से मुंडन किया गया

 

ससुरालवालों ने अत्याचार की सारी हदें पार कर दी. लड़की के साथ मारपीट के अलावा उसका मुंडन कर दिया गया और आइब्रो के भी बाल को हटा दिए. पीड़िता ने बताया कि जब वह चिल्लाती तो उसे करंट दिया जाता था. आखिरकार सोमवार को मौका मिला और वह घर से भाग गई भागते हुए कर्माटांड़ बाजार पहुंची जहां उसकी मुलाकात कुछ पत्रकारों से हुई. उसने पत्रकारों को अपना हाल बताया और मदद मांगी. फिर तुरंत ही इसकी सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *