Jharkhand News : राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के विरोध में छठ पूजा समिति का धरना आयोजित किया गया…

Jharkhand News : राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के विरोध में छठ पूजा समिति का धरना आयोजित किया गया…

NEWSTODAYJ : रांची।18 नवंबर से छठ पूजा की शुरुआत हो रही है।झारखंड सरकार ने कोरोनोवायरस महामारी फैलने की आशंका के मद्देनजर सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर्व पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे झारखंड में कई जगहों पर रोष देखा जा रहा है।रांची में आज छठ पूजा को लेकर राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के विरोध में छठ पूजा समिति का धरना आयोजित किया गया।

यह भी पढ़े…Crime News :भूली आज़ाद नगर में दिन दहाड़े बैंक एजेंट को मारी गोली,पुलिस ने मौके से खोखा भी किया बरामद…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए छठ पूजा गाइडलाइन जारी किया है ,जिसके तहत तालाबों में और सार्वजनिक जगहों पर अयोजन कि मनाही की गई है लेकिन इसे लेकर छठ करने वालों में रोष देखने को मिल रहा है।दरअसल, कोरोना की वजह से झारखंड सरकार ने गाइडलाइन इश्यू किया है।इसके तहत श्रद्धालु नदियों, तालाबों, झीलों और अन्य जल निकायों में छठ पूजा नहीं कर पाएंगे।गृह, कारागार और आपदा प्रबंधन विभाग के दिशानिर्देशों ने तालाबों और नदियों के किनारे स्टॉल या बैरिकेड्स लगाने पर भी प्रतिबंध लगा दिए हैं।दरअसल, कोरोना की वजह से झारखंड सरकार ने गाइडलाइन इश्यू किया है।इसके तहत श्रद्धालु नदियों, तालाबों, झीलों और अन्य जल निकायों में छठ पूजा नहीं कर पाएंगे।गृह, कारागार और आपदा प्रबंधन विभाग के दिशानिर्देशों ने तालाबों और नदियों के किनारे स्टॉल या बैरिकेड्स लगाने पर भी प्रतिबंध लगा दिए हैं।साथ ही छठ घाटों पर किसी भी तरह की सजावट पर भी पाबंदी है।

यह भी पढ़े…Constitution of cabinet : नीतीश कुमार नए मंत्रिमंडल में शामिल, यहां मंत्रियों की सूची पढ़ें…

विभाग ने सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करने पर भी रोक लगाई है।मुख्य सचिव सुखदेव सिंह की अध्यक्षता वाली एक समिति ने कहा कि सरकार को लगा कि छठ के दौरान नदियों के किनारे धार्मिक अनुष्ठान करते समय सामाजिक दूरी और चेहरे पर मास्क लगाने के नियमों का पालन करना संभव नहीं होगा और नदियों में स्नान वगैरह करने से संक्रमण के फैलने का खतरा भी हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here