Jharkhand News : पूजा पंडाल को काले कपड़ों से ढंकने पर बिफरे बाबूलाल मरांडी, कहा- हेमंत सोरेन सरकार ने धार्मिक आस्था पर चोट पहुंचाई…

0
न्यूज़ सुने

Jharkhand News : पूजा पंडाल को काले कपड़ों से ढंकने पर बिफरे बाबूलाल मरांडी, कहा- हेमंत सोरेन सरकार ने धार्मिक आस्था पर चोट पहुंचाई…

NEWSTODAYJ : रांची रेलवे स्टेशन दुर्गा पूजा पंडाल को प्रशासन के द्वारा काले कपड़ों से ढंकने के मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार ने धार्मिक आस्था पर चोट पहुंचाई है। इस घटना की जितनी निंदा की जाए कम है। आप (हेमंत सोरेन) तो सामाजिक समरसता की बात करते थे। लेकिन मुझे यह बताते हुए काफी दुख हो रहा कि झामुमो सरकार द्वारा लिया गया अधिकतर निर्णय बहुसंख्यक समाज की आस्था के अनुकूल प्रतीत नहीं हो रहा।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : BJP प्रदेश अध्यक्ष ने दुमका और बेरमो उपचुनाव में जीत का दावा किया , राज्य सरकार को बताया ठगबंधन व जनविरोधी…

विपक्षी दल के नेता के रुप में राज्य की जनता की भावनाओं को आप तक पहुंचाना मेरा दायित्व है। दुर्गा पूजा सिर्फ हिंदुओं का ही नहीं बल्कि सभी धर्म के लोगों के शक्ति और स्वास्थ्य वर्धन हेतु आस्था और विश्वास का प्रतीक है।प्रशासन ने की कार्रवाई, कहा- गाइडलाइन का उल्लंघन सदर एसडीओ समीरा एस ने गुरुवार को शहर के कई पूजा पंडालों का जायजा लिया।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : झामुमो किसान मोर्चा ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का विरोध जताया…

इस दौरान उन्होंने रांची रेलवे स्टेशन के पूजा पंडाल में बनी कलाकृति को ढंकने का निर्देश दिया। एसडीओ ने पंडाल के प्रवेश और निकास द्वार पर भी आपत्ति की। उन्होंने कहा कि जब पब्लिक पार्टिशिपेशन की अनुमति नहीं है तो क्यों द्वार बनाया गया। इस पर पूजा समिति कोई जवाब देते इससे पहले ही एसडीओ ने दो टूक शब्दों में कहा कि यहां प्रवेश द्वार को बंद करें, ताकि श्रद्धालु पंडाल में नहीं आ सके। इस पर आयोजकों ने पंडाल के मुख्य द्वार और कलाकृतियों को काले कपड़े से ढंक दिया। एसडीओ ने रांची रेलवे स्टेशन, कोकर व नामकुम पूजा पंडाल के आयोजक को शो कॉज नोटिस भी जारी किया।एसडीओ ने पंडाल के प्रवेश और निकास द्वार पर भी आपत्ति की। उन्होंने कहा कि जब पब्लिक पार्टिशिपेशन की अनुमति नहीं है तो क्यों द्वार बनाया गया।

यह भी पढ़े…Crime News : जंगल में मिला अज्ञात युवती का शव, शिनाख्त के प्रयास में जुटी पुलिस…

एसडीओ ने पंडाल के प्रवेश और निकास द्वार पर भी आपत्ति की। उन्होंने कहा कि जब पब्लिक पार्टिशिपेशन की अनुमति नहीं है तो क्यों द्वार बनाया गया।पट खुलते ही पहुंचने लगे श्रद्धालु, आयोजक परेशान
पूजा पंडालों के पट खुलते ही मां का दर्शन करने के लिए पंडालों में श्रद्धालु पहुंचने लगे। इससे पूजा आयोजक काफी परेशान रहे। रेलवे स्टेशन, हरमू रोड सहित अन्य पूजा समिति के आयोजक श्रद्धालुओं से पंडाल के अंदर नहीं जाने की विवशता के लिए माफी मांगते दिखे। क्योंकि आयोजकों को प्रशासन की कार्रवाई का डर है।पंडाल में रह सकेंगे 15 लोग, नहीं जा सकेंगे दर्शनार्थी
आपदा प्रबंधन विभाग ने गुरुवार रात को पूजा पंडाल में एक समय में 15 लोगों के रहने की छूट दे दी है, लेकिन ये 15 लोग सिर्फ पूजा समिति के ही होंगे। दर्शनार्थियों को किसी भी पूजा पंडाल में जाने की छूट नहीं मिली है। डीसी छवि रंजन ने विभाग के आदेश पर स्थिति स्पष्ट

यह भी पढ़े…Dhanbad News : पक्ष और विपक्ष दोनों नेताओं का जमावड़ा कोयलांचल धनबाद में…

करते हुए कहा कि पूर्व में सात व्यक्तियों को ही पूजा में शामिल होने का आदेश दिया गया था। उसे बढ़ाकर 15 किया गया है। इसका मतलब यह नहीं है कि एक बार में पूजा पंडाल में 15 श्रद्धालु भ्रमण कर सकते हैं।उपायुक्त ने कहा कि जारी किया गया आदेश केवल पूजा समितियों के लिए है। इसमें श्रद्धालुओं के लिए कुछ नहीं है। डीसी ने कहा कि पूजा समितियों द्वारा सरकार से यह मांग किया गया था कि सात लोगों की उपस्थिति में पूजा का अनुष्ठान पूरा करने में कठिनाई है। इसलिए इसे बढ़ाकर 15 किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here