Jharkhand News : जेल में कैदी की मौत के बाद परिजनों ने रेल चक्का किया जाम…

Jharkhand News : जेल में कैदी की मौत के बाद परिजनों ने रेल चक्का किया जाम…

NEWSTODAYJ कोडरमा : जेपी केंद्रीय कारा हजारीबाग में उम्रकैद की सजा काट रहे जयनगर थाना क्षेत्र के मुसौवा निवासी रामदेव पंडित की जेल में ही मौत के बाद उनके स्वजन व ग्रामीणों ने परसाबाद में रेल चक्का जाम कर दिया है। लोगों की मांग की है कि कारा के जेलर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए। रेल चक्का जाम करने को लेकर पूर्व विधायक जानकी यादव के नेतृत्व में लिखित मेमोरेंडम देने की तैयारी की जा रही है।हालांकि आरपीएफ व स्थानीय पुलिस भी रेल चक्का जाम के प्रयास को विफल करने के लिए पूरी तरह से कमर कस ली है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : भू माफियाओं में शामिल एक आरोपी को फर्जीवाड़े के मामले में आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

इसके लिए अतिरिक्त पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई है। बता दें कि जेपी कारा हजारीबाग में अपने चचेरे भाई के पत्नी की हत्या के मामले में रामदेव पंडित 8 साल से जेपी कारा हजारीबाग में सजा काट रहे थे। 6 नवंबर को उनकी जेल में ही मौत हो गई।इसकी सूचना कारा प्रशाासन के द्वारा उनके पुत्र दीपक पंडित को दी गई थी। जब दीपक सदर अस्पताल हजारीबाग पहुंचा तो वहां उसे उसके पिता का शव हवाले कर दिया गया। 7 नवंबर को वह अपने पिता के शव को लेकर मुसौवा पहुंचे तो स्वजन व ग्रामीण जेलर पर हत्या का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करने की मांग करने लगे। शनिवार को दिनभर घर के बाहर शव के साथ धरना पर बैठे रहे। इस दौरान स्थानीय बीडीओ व थाना प्रभारी ने इन्हें मनाने का काफी प्रयास किया, लेकिन लोग नहीं माने।लोग तंबू लगाकर पूर्व विधायक जानकी यादव के नेतृत्व में धरना पर बैठे रहे। रविवार को अहले सुबह पूर्व विधायक जानकी यादव के नेतृत्व में परसाबाद रेलवे स्टेशन पर रेल चक्का जाम करने की तैयारी की जा रही है। हालांकि प्रखंड विकास पदाधिकारी अमित कुमार परसाबाद पहुंच चुके हैं और लोगों को समझाने बुझाने का प्रयास कर रहे हैं।

यह भी पढ़े…Deepawali 2020 : दीपावली को रौशन करने में जुटे बेरमो कोयलांचल के कुंभकार…

इधर घरौंजा पंचायत के मुखिया अजय कुमार ने बताया कि 7 नवंबर की संध्या ही प्रखंड विकास पदाधिकारी अमित कुमार के आश्वासन पर धरना समाप्त कर दिया गया रहता परंतु थाना प्रभारी के अड़ियल रवैया के कारण लोग आक्रोशित हो गये। उन्होंने थाना प्रभारी श्याम लाल यादव को भी हटाने की मांग की है। वहीं विधायक जानकी यादव ने कहा कि हजारीबाग जेल प्रशासन का रवैया पूरे में संदिग्ध है। बहरहाल बंदी के मौत के तीसरे दिन भी लोग शव का दाह संस्कार नहीं किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here