Jharkhand News : कोरोना पर सरकार अलर्ट, नियमों की अनदेखी पर लगेगा जुर्माना…

Jharkhand News : कोरोना पर सरकार अलर्ट, नियमों की अनदेखी पर लगेगा जुर्माना…

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड में कोरोना वायरस के मामले भले ही नियंत्रण में हों लेकिन सरकार सशंकित है। त्योहार के दौरान बड़ी संख्या में लोग घरों से बाहर निकले और एक दूसरे के संपर्क में आए हैं। स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि, इससे कोरोना संक्रमण के फैलने का खतरा एकबार फिर बढ़ गया है।जानकार भी संक्रमण को लेकर चिंता जता रहे हैं। 27 नवंबर तक के आंकड़ों की बात करें तो प्रदेश में 1 लाख 85 हज़ार से अधिक संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : दामोदर नदी में डूब कर हुई लापता वृद्ध की मौत, अज्ञात शव की हुई पहचान…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

हालांकि, सक्रिय मामलों की संख्या 2 हज़ार से कुछ ज्यादा है। मृतकों की बात करें तो अबतक राज्यभर में 962 संक्रमितों की जान जा चुकी है।राजधानी रांची में संक्रमित मरीज़ों की तादाद सबसे ज्यादा है। लिहाज़ा, रांची नगर निगम में इसकी रोकथाम को लेकर लगातार बैठक हो रही है। मेयर आशा लकड़ा की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय हुआ कि, झारखंड नगरपालिका अधिनियम-2011 के तहत सार्वजनिक स्थलों पर यत्र-तत्र थूकने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा। इतना ही नहीं जो भी दुकानदार कोविड 19 के नियमों का उल्लंघन करेंगे उनके ख़िलाफ़ 5000 से लेकर 25000 रुपए तक जुर्माना वसूला जाएगा। साथ ही प्रतिष्ठान को सील भी किया जाएगा।रांची नगर निगम और झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स कोरोना वायरस को लेकर जागरुता अभियान चलाएगा। इसके लिए 07 दिनों का ड्राइव चलाया जाएगा। मास्क, सैनिटाइजर और सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन को लेकर लोगों को बताया जाएगा। दिसंबर के पहले सप्ताह में निगम की स्थायी समिति की बैठक में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर चर्चा की जाएगी।झारखंड में कोरोना वायरस को लेकर पक्ष-विपक्ष के बीच जमकर राजनीति भी हो रही है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : पुलिस और PLFI सुप्रीमो दिनेश गोप के दस्ते में मुठभेड़, एसएलआर सहित अन्य हथियार बरामद…

विपक्ष का आरोप है कि, वर्तमान हेमंत सोरेन की सरकार महामारी से निपटने में नाकाम रही है। यही वजह है कि, राज्य में संक्रमण तेज़ी के साथ फैलता जा रहा है। दूसरी तरफ सरकार का आरोप है कि, कोविड-19 से निपटने में केंद्र सरकार की ओर से अपेक्षित सहयोग नहीं मिला। लिहाज़ा, राज्य सरकार ने अपने संसाधनों के बूते महामारी से मुकाबला कर रही है। आपको बता दें कि, महामारी के दौरान देशभर में सबसे पहले मज़दूरों को ट्रेन से लाने वाला राज्य झारखंड था। इतना ही नहीं लद्दाख समेत अन्य स्थानों से देश में सबसे पहले हवाई जहाज़ के माध्यम से प्रवासी मज़दूरों को झारखंड लाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here