Jharkhand News : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला दहन , किसानों के प्रति अन्यायपूर्ण और तुगलकी फरमान के विरोध…

0
न्यूज़ सुने

Jharkhand News : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला दहन , किसानों के प्रति अन्यायपूर्ण और तुगलकी फरमान के विरोध…

NEWSTODAYJ : देवघर के स्थानीय टावर चौक पर झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला दहन किया गया पिछले दिनों झारखंड सरकार के मंत्री रामेश्वर उरांव द्वारा किसानों के प्रति अन्यायपूर्ण और तुगलकी फरमान के विरोध में सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री झारखंड सरकार का विरोध करते हुए पुतला दहन किया है ।झारखंड सरकार के मंत्री रामेश्वर उरांव का निर्णय किसानों की कच्ची धान के क्रय करने से झारखंड सरकार के राजस्व की हानि हो रही है.

यह भी पढ़े…Jharkhand News : हाथ जोड़े गिड़गिड़ाता रहा ट्रक ड्राइवर , मोबाइल पुलिस को नहीं आयी रहम, जमकर की पिटाई…

वहीं मौके पर पुतला दहन का नेतृत्व कर रहे नगर अध्यक्ष चन्द्र शेखर खबाड़े ने कहा की सरकार किसानों से उनकी धान का क्रय नहीं करेगी जिससे यह प्रतीत होता है कि झारखंड सरकार किसानों को परेशान कर उन्हें दलालों के पास अपने धान को औने पौने दाम में बेचने को मजबूर कर रही है ।दलालों के माध्यम से मंत्री और सरकार को भी मोटी और गाढ़ी कमाई होती है दलालों को प्रश्रय देने के लिए झारखंड सरकार का यह तुगलकी निर्णय आया है जिसका भारतीय जनता पार्टी विरोध करती है कोरोना काल में जहां हम सभी के पास धन का अभाव है वहीं हमारे अन्नदाता किसान भाइयों के पास जिन्होंने अपनी सारी पूंजी एवं प्रतिष्ठा को दांव पर लगाकर कर्ज लेकर अपनी खेती कर धान की उपज किया है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : वन विभाग के दल पर स्थानीय दबंग युवकों ने हमला कर वनरक्षकों साजिद अली की जमकर पिटाई कर दी…

यदि सरकार इनके धान को क्रय नहीं करेगी तो उनके सामने कर्जदारों का दबाव तथा अपनी जमा पूंजी की निकासी का रास्ता भी बंद होता दिखेगा जिस कारण किसानों के बीच हताशा निराशा बढ़ेगी और वह आत्महत्या तक को प्रेरित हो जाएंगे ।भारतीय जनता पार्टी झारखंड के अन्नदाता किसान भाइयों के साथ कदम दर कदम चलने को तैयार है साथ ही हम झारखंड सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन से यह आग्रह करते हैं कि आप किसानों के प्रति उदारता पूर्ण निर्णय लें जिससे हमारे किसान भाइयों के बीच किसी भी प्रकार की निराशा हताशा ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here