Jharkhand News : चिंतित लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड़ी, स्थिति में सुधार नहीं ,जाना पड़ सकता है डायलिसिस…

1 min read

Jharkhand News : चिंतित लालू प्रसाद यादव की तबीयत बिगड़ी, स्थिति में सुधार नहीं ,जाना पड़ सकता है डायलिसिस…

NEWSTODAYJ : रांची। बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव झारखंड हाईकोर्ट से जमानत याचिका पर सुनवाई टलने की वजह से काफी निराश हैं। जेल मैनुअल के अनुसार शनिवार को तीन लोगों से मिलने की अनुमति के बावजूद उन्होंने किसी से भी मिलने से इनकार कर दिया। वहीं उनके स्वास्थ्य की देखरेख में लगे चिकित्सकों ने बिगड़ते स्वास्थ्य पर चिंता व्यक्त करते हुए।

यह भी पढ़े…Minority Scholarship Scam : झारखंड , बिहार और पंजाब में अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति घोटाले में CBI जांच का फैसला…

कहा कि यदि स्थिति में सुधार नहीं होता है, तो उन्हें डायलिसिस पर जाना पड़ सकता है। ऐसा माना जा रहा है कि बेल पर सुनवाई टलने और बिहार चुनाव परिणाम की चिंता से लालू यादव तनाव में आ गए हैं।रांची के रिम्स स्थित केली बंगले में इलाजरत लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य पर पिछले दो साल से अधिक समय से नजर रखने वाले मुख्य चिकित्सक डॉ. उमेश प्रसाद ने शनिवार को उनके स्वास्थ्य पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि उनकी किडनी का क्रिएटनीन लेवल बढ़ गया है जो अभी लेबल-4 पर है जैसे ही या लेबल-5 पर जाएगा, लालू यादव को किडनी के लिए डायलिसिस पर जाना पड़ सकता है।डॉक्टरों के मुताबिक उनकी तबीयत बिगड़ने का एक बड़ा कारण मानसिक तनाव है। वे बिहार चुनाव को लेकर लगातार चिंतित हैं। खाने-पीने पर भी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

यह भी पढ़े…Coronavirus : झारखंड राज्य में कोरोना वायरस के 340 नए मामले सामने आए…

डॉक्टरों के मुताबिक लालू यादव की 25 प्रतिशत किडनी ही काम कर रही है। पहले की अपेक्षा हाल ही में इसमें 10 फीसदी की गिरावट आई है। अगर इसमें 10-12 फीसदी की और गिरावट आई तो उन्हें डायलिसिस की जरूरत पड़ सकती है। शनिवार को भी झारखंड के कई इलाकों से लालू यादव के कई प्रशंसक मुलाकात करने पहुंचे, लेकिन किसी भी व्यक्ति को मुलाकात करने की इजाजत जेल प्रशासन की ओर से नहीं दी गयी। लालू यादव से मिलने पहुंचे राजद के कार्यकर्ता बताते हैं कि पिछले 2 सप्ताह से मुलाकात करने की उम्मीद में रिम्स पहुंच रहे हैं लेकिन लालू यादव से मुलाकात नहीं हो पा रही है।

यह भी पढ़े…PM Kisan Scheme : 6,000 रुपए की सरकारी मदद चाहिए तो यहां खुद ही करें रजिस्ट्रेशन…

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह भी बताया जा रहा है कि बिहार में तीसरे चरण चुनाव संपन्न हो जाने के बाद और एग्जिट पोल में महागठबंधन को मिल रही बढ़त मिलने की खबर से उनके चेहरे का तनाव कुछ कम हुआ है, लेकिन जिस तरह से उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई 27 नवम्बर तक टल गयी है, ऐसी स्थिति में छठ और दीपावली जैसे महत्वपूर्ण पर्व पर अपने परिवार से दूर रहने की चिंता से भी उनके चेहरे पर मायूसी देखी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.