NEWSTODAYJ_Hazaribag : हजारीबाग पुलिस ने हत्या, लूट, डकैती जैसे संगीन अपराधों के आरोपी व्यवसायी प्रशांत प्रधान को गिरफ्तार कर लिया है. मुफ्फसिल थाना के समीप घेराबंदी कर एक दिन पूर्व प्रशांत प्रधान को पुलिस ने दबोचा. हालांकि, व्यवसायी का सहयोगी अकिल अंसारी व उसका एक रिश्तेदार मौके से फरार होने में सफल रहा. प्रशांत प्रधान से पुलिस ने दो पिस्टल, 65 गोलियां व दस हजार नगद बरामद किया है. मालूम हो कि प्रशांत प्रधान हिस्ट्रीशीटर है. इसके खिलाफ विभिन्न 12 थानों में 18 से अधिक मामले दर्ज हैं. इनमें हत्या, लूट, डकैती, कोयला तस्करी जैसे मामले हैं.

प्रशांत प्रधान पर पुलिस की नजर लंबे समय थी. बताया जाता है कि कल पुलिस पुलिस को इनपुट मिला था कि वह रांची से हजारीबाग आ रहा है. मुफ्फसिल थाने के समीप पुलिस घात लगाकर बैठी रही. बताया जाता है कि पुलिस ने चरही से ही प्रशांत की गाड़ी को ट्रैप कर लिया था. पुलिस गाड़ी को पीछे देख उसने तेज गति से गाड़ी भगायी थी, लेकिन दोपहर दो से तीन बजे के बीच मुफ्फसिल थाना के समीप पुलिस ने उसे दबोच लिया.

यह भी पढ़े…Jharkhand news: कोयला चुनने गए दो लोगों की दबने से मौत,पुलिस मौके पर पहुंची और काफी मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला.

प्रशांत फॉरच्यूनर गाड़ी से था. पुलिस ने फॉरच्यूनर गाड़ी को भी जब्त कर लिया है. पुलिस इस गिरफ्तारी को लेकर काफी सतर्क है. सतर्कतावश पुलिस बड़ी देर तक पुलिस गिरफ्तारी की सूचना को दबाये रखी. हालांकि, बाद में एसपी मनोज रतन चौथे ने गिरफ्तारी की पुष्ट कर दी. देर रात उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. अनुमान है कि पुलिस आज अदालत में पेश कर उसे रिमांड पर लेगी.

 

 

गिरफ्तारी के पूर्व से ही पुलिस प्रशांत प्रधान द्वारा किए गए अपराधों की सूची खंगाल रही है. प्रशांत का आपराधिक रिकार्ड 1996 से है. उसके खिलाफ पहली प्राथमिकी इसी वर्ष दर्ज हुई थी. बताया जाता है कि दस से अधिक मामले में वह चार्जशीटेड है. अब पुलिस मौक से फरार हुए अकिल अंसारी व प्रशांत के रिश्तेदार को पकड़ने मे जुटी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *