Jharkhand news:विजयादशमी के दिन जेल कर्मियों ने और बंदियों ने मां को भावभीनी विदाई दी

0

NEWSTODAYJ_जमशेदपुर: घाघीडीह स्थित सेंट्रल जेल में विजयादशमी के दिन जेल कर्मियों ने और बंदियों ने मां को भावभीनी विदाई दी. इस मौके पर ढाकी की धुन पर जेल कर्मियों ने जमकर डांस किया. सेंट्रल जेल प्रशासन ने बताया कि मां दुर्गा की प्रतिमा को जेल के सभी वार्ड में घुमाया जाता है और बंदियों को मां का दर्शन कराया जाता है. इस दौरान कोविड गाइडलाइन का पालन किया गया.

 

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

 

जमशेदपुर में घाघीडीह स्थित सेंट्रल जेल में विजयादशमी के दिन मां दुर्गा का विसर्जन बड़े ही धूमधाम से किया गया. मां की प्रतिमा को बड़े वाहन में सजाकर जेल के अंदर ले जाया गया. जेल के अंदर सबसे पहले महिला बंदियों ने मां का दर्शन कर पूजा अर्चना कर उन्हें भावभीनी विदाई दी. इस दौरान मां की प्रतिमा को जेल के अंदर सभी वार्ड में घुमाया गया. जहां पुरुष बंदियों ने मां का दर्शन कर प्राथना की और अच्छाई के रास्ते पर चलने का संकल्प लिया.

यह भी पढ़े…Jharkhand news:11000 विद्युत तार की चपेट में आने से दो मजदूरों की दर्दनाक मौत,10 से अधिक मजदूर जख्मी

आपको बता दे कि घाघीडीह सेंट्रल जेल परिसर में पिछले कई वर्षों से दुर्गा पूजा का आयोजन किया जाता है. जेल के सभी कर्मी और जेल प्रशासन के सहयोग से पूजा का आयोजन किया जाता है. बंदियों के मां के दर्शन करने के बाद प्रतिमा को जेल के अंदर से बाहर लाया गया जहां ढाकी की धुन पर जेल कर्मीयों ने डांस किया.घाघीडीह सेंट्रल जेल प्रशासन ने बताया कि सरकार द्वारा जारी कोविड गाइडलाइन के तहत विजयादशमी के दिन मां की प्रतिमा का विसर्जन किया गया. मां की प्रतिमा को जेल के अंदर ले जाया गया. जहां सबसे पहले महिला बंदी मां का दर्शन करती हैं. फिर जेल के सभी वार्ड में मां की प्रतिमा को घुमाया जाता है. मां की प्रतिमा को कॉलोनियों में घुमाते हुए बागबेड़ा बड़ौदा घाट में विसर्जित किया जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here