• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Jharkhand news:मॉल में चोरी के नाम पर पुलिस ने एक युवक की पिटाई,मां का आरोप- गला दबाकर और लात से मारा

1 min read

NEWSTODAYJ_रांची:रांची के एक मॉल में चोरी के नाम पर पुलिस ने एक युवक की इतनी पिटाई कर दी कि उसे रिम्स अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ा है। मामला जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र का है। थाना क्षेत्र के सिंहमोड़ स्थित टोकड़ी मॉल नामक एक दुकान में चोरी हुई थी। चोरी की छानबीन को लेकर बरझोपड़ी लाइटहाउस निवासी संदीप राम को पुलिस 11 सितंबर की रात करीब 11:30 बजे पकड़ कर थाने ले आई।

यह भी पढ़े…Jharkhand news:15 घंटों से हो रही भारी बारिश के चलते जनजीवन प्रभावित,छोटी-बड़ी नदियां उफान पर

पूछताछ में संदीप ने चोरी में शामिल होने से साफ तौर पर इंकार कर दिया। दूसरे दिन पुलिस ने रोज थाने में हाजि‍री लगाने की शर्त पर छोड़ दिया। इसके बाद से संदीप प्रतिदिन थाना हाजि‍री लगाने आता था। इस बीच पुलिस रोज उसके साथ मारपीट करती थी। गुरुवार को पिटाई से संदीप की सांस अटक गई। इसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में संदीप को रिम्स में इमरजेंसी में एडमिट करा दिया।

 

संदीप की मां का आरोप- गला दबाकर और लात से मारा, इस कारण बिगडी स्थिति संदीप की मां गीता देवी ने बताया कि हाजिरी लगाने के लिए वह खुद अपने बेटे संदीप के साथ थाने आती थी। जब भी वह थाने में आता, जगन्नाथपुर थाना प्रभारी अभय कुमार सिंह एवं एसआइ अंकु कुमार जमकर मारपीट करते। संदीप और मैं खुद पुलिस से हाथ जोड़कर विनती करते रहते, लेकिन पुलिस लगातार पीटती रहती थी। गुरुवार को भी जैसे ही संदीप थाने में आया, थाना प्रभारी ने कहा कि मेरी टोपी लेकर आओ। वह जैसे ही टोपी लेकर आया, उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। थाना प्रभारी एवं अन्य पुलिसकर्मियों ने उसका गला दबा दिया। पुलिसकर्मी लात से उसे मार रहे थे। ऐसा करने पर संदीप बेहोश होकर गिर गया। अगर मेरे बेटे ने चोरी की है, तो पुलिस मुझसे पैसे ले ले, पर जान बख्श दे बेटे को अस्पताल में बेसुध पड़ा देख गीता देवी काफी रो रही है। उसने कहा कि मेरा बेटा चोरी नहीं कर सकता है। किसी के पास कोई प्रमाण नहीं है। अगर पुलिस को लगता है कि मेरे बेटे ने चोरी की है, तो मुझे बताएं। मैं जहां से भी होगा, पैसे का इंतजाम करके दे दूंगी। अब पुलिस मेरे बेटे की जान बख्श दे। सेना तैयारी करता है, सुबह में बेचता अखबार गीता देवी ने बताया कि संदीप सेना में बहाली की तैयारी करता है। वहीं घर का खर्च चलाने के लिए सुबह में अखबार बेचता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.