• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Jharkhand news:जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों ने निकाला कैंडल मार्च

1 min read

NEWSTODAYJ_रांचीः जेपीएससी सातवीं से लेकर दसवीं जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर मंगलवार देर शाम जेपीएससी अभ्यर्थियों ने कैंडल मार्च निकाला. इस दौरान अभ्यर्थियों ने JPSC PT EXAM 2021 रद्द करने की मांग की.

 

गौरतलब है कि सातवीं से लेकर दसवीं जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाकर लगातार कुछ अभ्यर्थियों की ओर से आंदोलन किया जा रहा है. अभ्यर्थियों का धरना प्रदर्शन और आमरण अनशन भी जारी हैं. इसी कड़ी में अभ्यर्थियों ने रांची में कैंडल मार्च निकाला. इस दौरान अभ्यर्थियों ने कहा कि जेपीएससी रिजल्ट में गड़बड़ी साफ है. इसके बावजूद इस ओर न तो मुख्यमंत्री का ध्यान है और न ही राज्य के आला अधिकारियों का. इस मामले को लेकर राज्यपाल को भी अवगत कराया गया है.लेकिन कार्रवाई नहीं हो रही है.

यह भी पढ़े…Jharkhand news:ग्रामीणों ने चोर को खंभे से बांधकर बेरहमी से पीटा

मेंस परीक्षा की तैयारीजेपीएससी परीक्षा देने वाली अभ्यर्थी कहकशा ने कहा कि जेपीएससी गुपचुप तरीके से मेंस परीक्षा आयोजित करने की तैयारी कर रही है. जबकि परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर अभ्यर्थी आंदोलनरत हैं. कहकशा ने कहा हम लोग इंसाफ मिलने तक आंदोलन करेंगे. कैंडल मार्च के दौरान भी अभ्यर्थियों ने कहा कि अगर ऐसी ही स्थिति रही तो इस राज्य में सत्ता सरकार और प्रशासन से लोगों का भरोसा उठ जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.