Indian Railways : जल्द ही पटरी में रेल दौड़ेगी 100 और नई ट्रेन, मेट्रो को हरी झंड़ी मिलने के बाद लगी उम्मीद…

0
न्यूज़ सुने

Indian Railways : जल्द ही पटरी में रेल दौड़ेगी 100 और नई ट्रेन, मेट्रो को हरी झंड़ी मिलने के बाद लगी उम्मीद…

  • ऐसे हालत में अब इंडियन रेलवे ने भी पैसेंजर ट्रेनें शुरू करने की अपनी खास तैयारी कर ली है। जैसे रेलवे को जैसे ही गृहमंत्रालय से हरी झंड़ी मिल जाएगी। 100 नई ट्रेनें पटरी पर दौड़ने लगेंगी।
  • मौजूदा समय में 230 एक्सप्रेस ट्रेनें चलाई जा रही हैं। जिसमें 30 राजधानी टाइप की ट्रेनें शामिल हैं। सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि अगले दो महीनों या अप्रैल में जब रेलवे जीरो-बेस्‍ड टाइम टेबल जारी करेगा।

NEWSTODAYJ :(एजेंसी) नई दिल्ली । अनलॉक 4.0 में काफी ढील दी गई है। जिसमें मेट्रो सर्विस को बहाल करना भी शामिल है। ऐसे हालत में अब इंडियन रेलवे ने भी पैसेंजर ट्रेनें शुरू करने की अपनी खास तैयारी कर ली है। जैसे रेलवे को जैसे ही गृहमंत्रालय से हरी झंड़ी मिल जाएगी। 100 नई ट्रेनें पटरी पर दौड़ने लगेंगी। ये इंटर-स्टेट और इंट्रा-स्टेट दोनों ट्रेनें होंगी।

यह भी पढ़े…Crime : शरीर से सिर अलग शव बरामद के बाद सर भी पुलिस ने बरामद कर ली…

यानी एक राज्य से दूसरे राज्य और राज्यों के भीतर चलने वाली ट्रेनें होंगी। टाइम्स ऑफ इंडिया सूत्रों के हवाले से कहा कि 100 और नई ट्रेन चलाने के लिए रेल मंत्रालय को गृह मंत्रालय की मंजूरी मिलने का इंतजार कर रहा है। ये सभी स्पेशल ट्रेन होंगी। मौजूदा समय में 230 एक्सप्रेस ट्रेनें चलाई जा रही हैं। जिसमें 30 राजधानी टाइप की ट्रेनें शामिल हैं।

यह भी पढ़े…Smuggler arrested : पुलिस को मिली बड़ी सफलता , 12.5 लाख मूल्य के अफीम डोडा के साथ तस्कर गिरफ्तार…

सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि अगले दो महीनों या अप्रैल में जब रेलवे जीरो-बेस्‍ड टाइम टेबल जारी करेगा तो इन ट्रेनों के समय में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।कोरोना वायरस महामारी के हालात को देखते हुए रेलवे ने पहले भी चरणबद्ध तरीके से ट्रेनें शुरू करने की तैयारी की थी। लेकिन बार-बार योजना में बदलाव होने के चलते टेनों चलाने के प्लान को टाल दिया जाता था।

यह भी पढ़े…Containment Zone : 14 कंटेनमेंट जोन का निर्माण, कंटेनमेंट जोन एवं बफर जोन का निर्माण कर तत्काल प्रभाव से अगले निर्देश तक कर्फ्यू लगाने का आदेश…

अब अनलॉक 4 में केंद्र सरकार ने सितंबर के दूसरे हफ्ते से मेट्रो सर्विस को चलाने के लिए हरी झंड़ी दे चुकी हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि जब लोग काम करने के लिए इधर से उधर जाएंगे।तब गांवों के लोग शहरों की ओर जाने लगेंगे। ऐसे में ट्रेनों की जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा त्योहारी मौसम भी आ रहा है।जिसमें ट्रेनों की डिमांड बढ़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here