• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Hospital negligence : माथे में लगी चोट, डॉक्टरों ने निकाल ली किडनी…

1 min read

Hospital negligence : माथे में लगी चोट, डॉक्टरों ने निकाल ली किडनी…

NEWSTODAYJ : रांची जिले के निजी अस्पताल सैमफोर्ड में आज परिजनों ने जमकर हंगामा किया।परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर ने मरीज के पेट से किडनी निकाल लिया है. परिजनों के अनुसार माथे में चोर लगने से ब्रेन हेमरेज की समस्या थी,आज सुबह 7 बजे परिजन अस्पताल पहुंचे थे।इलाज के बाद मरीज के पेट में ऑपरेशन का दिखा निशान. जिसे देख परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन से पूछा कि जब चोट माथे में थी तो पेट का ऑपेरशन किस लिये किया गया ?

यह भी पढ़े…Rajya Sabha ruckus : राज्य सभा में विपक्षी दलों के जोरदार हंगामे के बीच पास हुआ कृषि विधेयक…

अस्पताल प्रबंधन द्वारा कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर परिजनों ने इसकी लिखित शिकायत स्थानीय थाना में दी है।परिजनों ने कहा कि हजारीबाग के सुल्ताना में सड़क दुर्घटना के बाद 18 सितंबर की रात में सैमफोर्ड अस्पताल में मरीज को भर्ती किया गया था।वहीं परिजनों का आरोप है कि अस्पताल ने मनमानी तरीक से बिल भी बनाया इलाज में 4 लाख 60 हजार का बिल मरीज की मौत के बाद परिजन को थमाया जाता है।

यह भी पढ़े..Criminal arrested : साइबर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 9 साइबर अपराधी को किया गिरफ्तार…

मृतक के शव को फिलाहल पोस्मार्टम के लिये भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही यह साफ हो पाएगा की क्या वाकई मृतक के पेट से किडनी गायब है या मौजूद है।अस्पताल प्रबंधन को यह भी बताना होगा कि माथे के ऑपेरशन के लिये गये मरीज का पेट में चीरा किस लिये लगाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.