Hathras incident : हाथरस गैंगरेप केस जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में फैसला आज , योगी ने विपक्ष पर गंभीर आरोप लागए…

0
न्यूज़ सुने

Hathras incident : हाथरस गैंगरेप केस जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में फैसला आज , योगी ने विपक्ष पर गंभीर आरोप लागए…

NEWSTODAYJ नई दिल्ली : हाथरस में 19 वर्षीय दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया न्यायमूर्ति शरद अरविंद बोबडे की अगुवाई वाली तीन जजों की बेंच आज उस याचिका पर सुनवाई करेगी, जिसमें मामले की सीबीआई या विशेष जांच दल जांच की मांग की गयी है।

यह भी पढ़े…Minister of Agriculture : कृषि मंत्री बादल पत्रलेख आज अपने चिर परिचित अंदाज में दिखे…

दूसरी ओर सोमवार को योगी सरकार ने हाथरस मामले में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर 20 से ज्यादा मामले दर्ज कर लिये हैं।दिल्ली के एक्टिविस्ट सत्यम दुबे ने वकील संजीव मल्होत्रा के माध्यम से सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है और अदालत से मांग की है कि इस हाथरस मामले की जांच सीबीआई से करायी जाए. या फिर सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के पूर्व जज की अगुवाई में एक विशेष जांच दल बनाकर इस मामले की जांच करायी जाए।याचिका में यह भी कहा गया है।

यह भी पढ़े…Opposition to privatization of banks : बैंकों के निजीकरण के विरोध , जोरदार प्रदर्शन बैंक कर्मचारियों ने की…

कि मामले को दिल्ली हस्तांतरित किया जाना चाहिए।सत्यम दुबे ने कहा कि सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता की मौत के बाद की सभी परिस्थितियों की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। जिसमें पुलिस द्वारा उसके परिवार की अनुपस्थिति में आधी रात को दाह संस्कार करने का मामला भी शामिल है।परिवार का आरोप है कि उन्हें युवती का अंतिम संस्कार नहीं करने दिया गया. बता दें कि यूपी सरकार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश कर दी है।

यह भी पढ़े…Hathras case : हाथरस मामले को लेकर कांग्रेस कमेटी ने एकदिवसीय धरना प्रदर्शन मौन व्रत सत्याग्रह किया…

उधर, उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में दलित समुदाय की महिला के साथ गैंगरेप और उसकी मौत के बाद तेजी से बदल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के बीच पुलिस ने जिले के चंदपा थाने में जाति आधारित संघर्ष की साजिश, सरकार की छवि बिगाड़ने के प्रयास और माहौल बिगाड़ने के आरोप में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज की है।इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है।प्रदेश भर में इस संबंध में कुल 21 मुकदमे दर्ज किये गये हैं।

यह भी पढ़े…Dead body recovered : दो थानों के बीच क्षेत्र विवाद के चलते घंटों पड़ा रहा शव , नदी किनारे से बरामद हुई शव…

इस बीच मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने सख्‍त तेवर दिखाते हुए कहा है कि ‘न केवल देश और प्रदेश में जातीय और सांप्रदायिक दंगे फैलाने की साजिश रची जा रही है बल्कि इसकी नींव रखने के लिए विदेश से फंडिंग भी हो रही है।योगी ने विपक्ष पर साजिश रचने का आरोप लगाया है।हालांकि उनके बयान के कुछ ही देर बार पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उनपर पलटवार करते हुए कहा कि साजिश रचने में मास्टरी करने वाले विपक्ष पर साजिश रजने का आरोप लगा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here