• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Good initiative : वृक्षों का रक्षासूत्र कार्यक्रम में पहुंचे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो…

1 min read

Good initiative : वृक्षों का रक्षासूत्र कार्यक्रम में पहुंचे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो…

  • रिश्ते और पौधे एक जैसे होते हैं,अगर इसे भूल जाओ तो दोनों ही सूख जाते हैं -जगरनाथ महतो।
  • प्रकृति के साथ कुछ ऐसे ही रिश्ते को बरकरार रखने मानव-प्रकृति संबंध आदिकाल से रहा है।

NEWSTODAYJ : बोकारो जिले के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र के पिलपिलो जंगल में पेड़ पौधे को रक्षासूत्र से बांध कर पर्यावरण को स्व्छय रखने का उपस्थित ग्रामीणों द्वारा संकल्प लिया गया, लगभग 03 किलोमीटर में फैला यह जंगल में सैकड़ो की संख्या में आज स्थानीय दूर दराज से महिला वा पुरुषो ने कार्यक्रम स्थल पहुंच कर भाग लिया सूबे के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा की

यह भी पढ़े…Prisoner absconding : कोविड सेंटर से 3 कैदी फरार,सभी थे कोरोना पॉजिटिव ,ताबड़तोड़ की जा रही छापेमारी…

पेड़ पौधे प्राकृतिक वातावरण को स्वच्छ बनाने में बहुत बड़ा योग्यदान देते है,प्रकृति के साथ कुछ ऐसे ही रिश्ते को बरकरार रखने मानव-प्रकृति संबंध आदिकाल से रहा है। पेड़ों से पेट भरने के लिए फल-सब्जि्यां और अनाज मिला। शरीर ढकने के लिए वस्त्र मिले। घर बनाने के लिए लकड़ी मिली। इनसे जीवनदायिनी ऑक्सीजन भी मिलती है। इसके बिना कोई एक पल भी जिदा नहीं रह सकता। इनसे औषधियां मिलती हैं।

यह भी पढ़े…Coronavirus : दो कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत , तीन दिन पहले कोविड अस्पताल में करवाया गया था भर्ती

पेड़ इंसान की जरूरत है यह जीवन का आधार है। यही कारण है कि सभी धर्मो में पेड़-पौधे को प्राथमिकता दी गई है। भारतीय समाज में आदिकाल से ही पर्यावरण संरक्षण को महत्व दिया गया है। भारतीय संस्कृति में पेड़-पौधों की पूजा होती है। यही कारण है कि समाज में आज भी बुद्धिजीवी पेड़ पौधे लगाने की ओर हर समय संजीदगी दिखते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें