Flesh market : SSP आवास से 500 मीटर की दूरी पर देह व्यापार की मंडी , इशारों-इशारों में ही ग्राहक सौदा…

Flesh market : SSP आवास से 500 मीटर की दूरी पर देह व्यापार की मंडी , इशारों-इशारों में ही ग्राहक सौदा…

NEWSTODAYJ : रांची में SSP आवास से 500 मीटर की दूरी पर देह व्यापार की मंडी सज रही है। यहां इशारों-इशारों में ही ग्राहक सौदा भी कर लेते हैं, लेकिन राह चलते लोगों, पास के चौराहों पर खड़ी पुलिस और गश्ती करती पुलिस की टीम को जानकारी तक नहीं हो पाती है। पिछले एक महीने में रांची के अरगोड़ा इलाके से पुलिस दो सेक्स रैकेट का खुलासा किया है। पुलिस का कहना है कि इसके लिए गुप्त सूचनाओं के आधार पर स्पेशल टीम का गठन किया गया है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : खैनी और सिगरेट का शौक अब सरकारी नौकरी के ख्वाब पर भारी पड़ सकता है…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

और इसी के आधार पर यह कार्रवाई की जा रही है।पुलिस का दावा है कि सेक्स रैकेट के खुलासे के लिए स्पेशल टीम का गठन किया गया है, जबकि SSP आवास से 500 मीटर दूर कचहरी चौक से लेकर रातू रोड, मछली घर तक के इलाके में रोजाना देह का सौदा हो रहा है। अघोषित रूप से इस इलाके को रांची का रेड लाइट इलाका भी कहा जाता है। पॉश और शहर के सबसे सुरक्षित इलाके में चल रहे इस खेल से पुलिस का पूरा अमला अंजान बना हुआ है।राजभवन के आसपास के इलाकों में देह व्यापार से जुड़ी औरतें दोपहर बाद थोड़ी-थोड़ी दूरी पर आकर खड़ी हो जाती हैं। ग्राहक अपनी पसंद के अनुसार इन महिलाओं के पास पहुंचते हैं। इसके बाद इशारों में सौदा तय होता है। ये सब पुलिस के सामने चल रहा होता है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : टाटा छपरा एक्सप्रेस में महिला , दो छोटे बच्चे समेत सामान ट्रेन से लापता ,जांच में जुटी GRP पुलिस…

राजभवन, कचहरी चौक, रातू रोड, मछलीघर चौक के पास पुलिस हमेशा मौजूद होती है। लेकिन उनका ध्यान इस ओर नहीं जाता, ये समझ से परे है।ग्राहक तय होने के बाद सेक्स वर्कर्स किसी के घर जाने के बजाए उन्हें होटल ले जाती हैं। इनका कचहरी चौक, अपर बाजार, पिस्का मोड़, बरियातू आदि इलाकों के होटल संचालकों के साथ अघोषित करार होता है। घंटे के हिसाब से उन्हें भुगतान किया जाता है। होटल चार्ज को भी सौदा तय करने के समय ग्राहक को बता दिया जाता है।रांची में सेक्स वर्कर्स को जागरुक करने के लिए पिछले पांच साल से मृगनयनी सेवा संस्थान काम कर रही है। संस्थान की अध्यक्ष प्रतिमा कुमारी के मुताबिक रांची में गांव की औरतों के साथ कॉलेज की लड़कियां और कुछ हाइ-प्रोफाइल औरतें भी जुड़ी हुई हैं। लड़कियां पढ़ाई के साथ पार्ट टाइम इस काम को करती हैं। उन्होंने बताया कि इनका कोई सरगना नहीं है। रांची में ये कारोबार आपसी नेटवर्क के माध्यम से चल रहा है। सभी सेक्स वर्कर, लड़कियां, हाई-प्रोफाइल महिलाएं एक-दूसरे से सोशल मीडिया से जुड़ती हैं। एक-दूसरे के लिए ग्राहक खोजकर लाती हैं। इस काम में कुछ लड़के भी उनकी मदद करते हैं।देह व्यापार से जुड़ी एक लड़की से बातचीत की गई तो पता चला कि इस काम में बंगाल के सेक्स वर्कर्स भी शामिल हैं। सभी पूरी तरह प्रोफेशनल हैं। उसने बताया कि जैसे ग्राहक होते हैं, उस अनुसार सौदा तय होता है। 500 रुपए से लेकर 5000 तक में सौदा होता है।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : देश के प्रथम राष्ट्रपति स्वर्गीय डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर रक्तदान शिविर , अर्जुन मुंडा समेत कई विधायक व दिग्गजों ने शिरकत की…

अरगोड़ा थाना प्रभारी से बातचीत करने पर उन्होंने बताया कि पहले इस अवैध कारोबार में बंगाल व बिहार के सेक्स वर्कर्स शामिल थे, लेकिन अब रांची और आसपास के इलाकों की लड़कियां और महिलाएं भी सक्रिय हो गई हैं। उन्होंने बताया कि एक महीने में सात लड़कियों को गिरफ्तार किया गया है, इनमें पांच रांची की हैं। सभी पूरी तरह प्रोफेशनल हैं। ये अपनी स्वेच्छा से इस काम से जुड़ी हैं।मृगनयनी सेवा संस्थान के मुताबिक, रांची के मोरहाबादी, बूटी मोड़, डोरंडा, शहीद मैदान आदि इलाकों में देह-व्यापार का अवैध कारोबार जारी है। संस्थान की अध्यक्ष प्रतिमा कुमारी का दावा है कि रांची में 1200 से ज्यादा सेक्स वर्कर्स इस धंधे से जुड़ी हैं। उन्होंने बताया कि ये अलग-अलग उम्र और परिवार से हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here