Exxon on viral photo : हजारीबाग में सड़क पर बच्चों से पढ़वाई नमाज पर पुलिस रेस वायरल फोटो डालने वालो को किया गिरफ्तार…

Exxon on viral photo : हजारीबाग में सड़क पर बच्चों से पढ़वाई नमाज पर पुलिस रेस वायरल फोटो डालने वालो को किया गिरफ्तार…

NEWSTODAYJ : हजारीबाग स्थित पेलावल में सड़क जाम कर के बच्चों से जुमे की नमाज पढ़वाने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में पुलिस ने अब तक 3 लोगों को हिरासत में लिया है। एसपी कार्तिक एस ने जानकारी दी कि पेलावल में बीच सड़क पर बच्चों को बिठाकर सड़क जाम किए जाने की एक तसवीर ‘वायरल की गई’ थी। उन्होंने कहा कि इसके तुरंत बाद पुलिस हरकत में आ गई और कार्रवाई शुरू की।एसपी का कहना है।

यह भी पढ़े…JPSC EXAM 2021: जल्द करे आवेदन ,अंतिम तिथि 15 मार्च तक, सर्वर भी डाउन।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

कि कुछ शरारती तत्वों ने जानबूझ कर सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की कोशिश की थी और पुलिस ने उनकी पहचान कर ली है। उन्होंने लोगों को सोशल मीडिया पर फ़ैल रही अफवाहों से बचने की भी सलाह दी। हालाँकि, घटना के सही निकलने के बावजूद उन्होंने ‘अफवाहों’ की बात की।एसपी ने लोगों को ‘सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों’ से सावधान रहने की भी सलाह दी। पुलिस ने कहा कि ऐसे तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।हजारीबाग के भाजपा विधायक मनीष जायसवाल ने इस घटना की पुष्टि करते हुए इस पर हैरानी जताई है और कहा है कि छोटे बच्चों को सामने कर सड़क पर नमाज पढ़ने के पीछे छोटी मानसिकता वाले लोग हैं।

यह भी पढ़े…Security forces success : जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों को मुठभेड़ में एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी…

उन्होंने कहा कि मामला उनके संज्ञान में है और उन्होंने जिला प्रशासन से बात कर के कार्रवाई की माँग की है।ये मामला पेलावल ओपी क्षेत्र स्थित हजारीबाग-कटकमसांडी मार्ग का है। नमाज पढ़ने वाले बच्चों की संख्या 8-10 के करीब है। शनिवार की शाम इस पर चर्चा के लिए DSP राजीव कुमार की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक भी हुई।स्थानीय मुस्लिम प्रतिनिधियों ने इस घटना की आलोचना तो की, लेकिन पुलिस-प्रशासन ने तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल कर अपने दर्द बताने वालों पर ही कार्रवाई कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here