Every home nutrition : कृषि अनुसंधान विज्ञान केंद्र में सेविकाओं को न्यूट्री गार्डन से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया…

0
न्यूज़ सुने

Every home nutrition : कृषि अनुसंधान विज्ञान केंद्र में सेविकाओं को न्यूट्री गार्डन से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया…

NEWSTODAYJ : बोकारो जिले में सितंबर माह में राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। 01 सितंबर से 30 सितंबर तक चलने वाले इस पोषण माह को “हर घर पोषण” का त्यौहार के रूप में मनाया जा रहा है। इसी के तहत आज कृषि विज्ञान केंद्र पेटरवार में सेविकाओं को न्यूट्री गार्डन (पोषण वाटिका) से संबंधित आंगनबाड़ी सेविकाओं को प्रशिक्षण दिया गया।

यह भी पढ़े..Against illegal work : ग्रमीण लोगो को अवैध कोयला कार्य के प्रति जागरूक किया एसपी…

प्रशिक्षण कार्यक्रम में आंगनबाड़ी सेविकाओं को बताया गया कि वर्तमान समय में पोषण वाटिका से उत्पादित सब्जी का ही सेवन हर व्यक्ति को करना चाहिए। विशेषकर गर्भवती महिला और धात्री महिलाओं को इसे विशेष रूप से खाना चाहिए, जिससे उनका पोषण स्तर सही रह सके तथा वे स्वस्थ और निरोग रह सके। प्रशिक्षकों ने आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविकाओं को बताया कि कैसे वह अपने आस पास की जमीन का उपयोग कर पोषण वाटिका का निर्माण कर सकती हैं एवं किस मौसम में कौन कौन सी सब्ज़ी लगा सकती हैं।

यह भी पढ़े…Fight with a health worker : कोरोना संक्रमित मरीज को लाने गई टीम को ग्रामीणों ने घेरकर पीटा, चार घायल…

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य पोषण स्तर को सुधारना तथा रासायनिक खाद से उत्पादित सब्जी का प्रयोग नहीं करने की सलाह देना था। साथ ही कार्यक्रम के दौरान यह भी बताया गया कि हरेक वयस्क व्यक्ति को 300 ग्राम सब्जी सेवन करना जरूरी है तथा कार्यकम में पालक, मूली, मेथी, धनिया, गाज़र आदि के बीज़ों का वितरण आंगनवाडी सेविकाओं के बीच किया गया।

जैविक खाद एवं वर्मी कंपोस्ट का खेत में प्रयोग करें।

कृषि विज्ञान केंद्र के वरीय वैज्ञानिक डॉ उदय कुमार सिंह ने प्रशिक्षण ले रहे सभी सेविका को अपने घरों के आसपास किचन गार्डन बनाकर हरी सब्जी का उत्पादन करने की सलाह दी तथा कहा कि जैविक खाद एवं वर्मी कंपोस्ट का खेत में प्रयोग करें। उन्होंने बताया कि बगीचों में नीम आधारित दवाओं का प्रयोग तथा छिड़काव जरूर करना चाहिए।

51 आंगनबाड़ी सेविकाओं को प्रशिक्षण दिया गया।

कार्यक्रम में 51 आंगनबाड़ी सेविकाओं को प्रशिक्षण दिया गया। इन सेविकाओं के आंगनबाड़ी केंद्रों में पर्याप्त भूमि है जहां पर वह पोषण वाटिका का निर्माण कर सकती हैं एवं समाज को पोषण के क्षेत्र में क्रांति लाने का प्रयास कर सकती है।प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान प्रखंड प्रमुख सीमा देवी, जिला परिषद सदस्य मंजू जैन, गोमिया विधायक प्रतिनिधि प्रभुनाथ महतो, कृषि विज्ञान के उदय कुमार सिंह (संचालक) एवं जिला समाज कल्याण कार्यालय के चंदन कुमार सहित अन्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here