• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Employment in panchayat : झारखंड राज्य के प्रत्‍येक जिला पंचायत में एक सप्ताह के अंदर 150 श्रमिकों को मिलेगा रोजगार …

1 min read

Employment in panchayat : झारखंड राज्य के प्रत्‍येक जिला पंचायत में एक सप्ताह के अंदर 150 श्रमिकों को मिलेगा रोजगार …

  • राज्य के सभी उप विकास आयुक्तों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि सभी पंचायतों में एक सप्ताह के भीतर 100 से 150 श्रमिकों का नियोजन किया जाए।
  • ग्रामीण विकास सचिव ने सभी डीडीसी को निर्देश दिया कि जिलों के प्रत्येक गांव में मनरेगा से योजनाएं संचालित की जाए एवं श्रमिकों को काम मुहैया कराया जाए।

NEWSTODAYJ रांची : मनरेगा कर्मियों की हड़ताल से प्रभावित श्रमिकों के रोजगार लक्ष्य को पुन: प्राप्त करने के लिए ग्रामीण विकास सचिव आराधना पटनायक ने कड़े निर्देश दिए हैं। मंगलवार को राज्य के सभी उप विकास आयुक्तों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि सभी पंचायतों में एक सप्ताह के भीतर 100 से 150 श्रमिकों का नियोजन किया जाए।

यह भी पढ़े…Narendra Modi from Ram Mandir: PM मोदी बोले- टूटने और उठने के क्रम से राम जन्मभूमि आज मुक्त हुई , मोदी के भाषण की अहम बातें…

उन्होंने मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए हाल के दिनों में उठाए गए कदमों की सराहना भी की। बता दें कि पिछले दिनों मनरेगा कर्मचारियों की हड़ताल के कारण श्रमिकों की संख्या गत 27 जुलाई को 2.68 लाख पहुंच गई थी, जो अब बढ़कर 3.40 लाख हो गई है। ग्रामीण विकास सचिव ने सभी डीडीसी को निर्देश दिया कि जिलों के प्रत्येक गांव में मनरेगा से योजनाएं संचालित की जाए एवं श्रमिकों को काम मुहैया कराया जाए।

यह भी पढ़े…Sushant Rajput Death Case : CBI को ट्रान्सफर हुआ सुशांत केस, बिहार के मुख्यमंत्री की सिफारिश केंद्र ने मंजूरी दी…

उन्होंने कहा कि वीर शहीद पोटो खेल योजना के तहत 1221 खेल मैदान में कार्य किया जा रहा है, वही बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत 28 हजार एकड़ में बागवानी का कार्य किया जा रहा है। मनरेगा आयुक्त सिद्धार्थ त्रिपाठी ने कहा कि बागवानी कार्य में पौधारोपण का कार्य आरंभ कर दिया गया है, जिससे आने वाले समय में राज्य आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि जल संरक्षण योजना के तहत टीसीबी, मेड़बंदी कंपोस्ट पिट की योजनाएं भी संचालित की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें