Employee Provident Fund : राज्य सरकार ने 3 मांगों को माना , मनरेगा कर्मियों की काम के दौरान मौत होने पर मिलेंगे 5 लाख रुपये…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

Employee Provident Fund : राज्य सरकार ने 3 मांगों को माना , मनरेगा कर्मियों की काम के दौरान मौत होने पर मिलेंगे 5 लाख रुपये…

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड के मनरेगा कर्मी अब कर्मचारी भविष्य निधि से जुड़ेंगे।इसके अलावा काम के दौरान दुर्घटना से मौत होने पर उसके परिजनों को सहायता के तौर पर 5 लाख रुपये दिये जायेंगे।गुरुवार को ग्रामीण विकास विभाग मंत्री आलमगीर आलम की अध्यक्षता में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे मनरेगा कर्मियों की प्रतिनिधिमंडल से वार्ता में यह सहमति बनी।मनरेगा कर्मियों की 5 मांगों के एवज में राज्य सरकार ने 3 मांगों को माना।

यह भी पढ़े…Investigation of assets of IPS : भ्रष्टाचार के आरोप में निलंबित 2 IPS अफसरों की संपत्तियों की होगी विजिलेंस जांच…

इसके साथ ही 27 जुलाई, 2020 से चली आ रही मनरेगा कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल खत्म हो गयी।ग्रामीण विकास विभाग मंत्री आलमगीर आलम और मनरेगा प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों के साथ हुई वार्ता में 3 मांगों पर सहमति बनी।इसके तहत काम के दौरान आंशिक, गंभीर और मौत पर राज्य सरकार की ओर से सहायता राशि उपलब्ध करायी जायेगी।इसके अलावा कर्मचारी भविष्य निधि से जोड़ने और मनरेगा कर्मियों के बर्खास्तगी के दौरान उन्हें अपील करने का प्रावधान किया गया है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : कोरोना को हराकर तीन अस्पताल से 34 हुए डिस्चार्ज, एक्टिव केस 328…

सामाजिक सुरक्षा के तहत अगर मनरेगा कर्मी अपने कार्यअवधि में दुर्घटना से घायल होते हैं, तो उन्हें इलाज कराने के लिए अधिकतम 25 हजार रुपये की सहायता राशि सरकार की ओर से उपलब्ध करायी जायेगी।इसके अलावा कार्य अवधि के दौरान गंभीर रूप से घायल होने वाले मनरेगा कर्मियों को इलाज के लिए अधिकतम 50 हजार रुपये की राशि उपलब्ध करायी जायेगी। वहीं, दुर्घटना से मृत्यु होने पर उनके परिजनों को सहायता के रूप में 5 लाख रुपये की राशि सरकार उपलब्ध करायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here