• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Elephant Panic : हाथियों का झुंड मचा रहा तबाही, दो ग्रमीण की मौत , वन क्षेत्र में किया गया हाई अलर्ट…

1 min read

Elephant Panic : हाथियों का झुंड मचा रहा तबाही, दो ग्रमीण की मौत , वन क्षेत्र में किया गया हाई अलर्ट…

  • छह जंगली हाथी घूम रहे हैं। वे न सिर्फ फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं, बल्कि वे इंसानों की जान भी ले रहे हैं। अब तक दो ग्रामीणों की जान जा चुकी है।
  • प्रक्षेत्र के रेंजर को इस बात का निर्देश भी दिया गया है कि वे गांव में मशाल, तेज आवाज करने वाले पटाखे, वह हाथियों को भगाने के प्रयोग में आने वाले ढोलक, नगाड़े आदि का वितरण कराएं।

NEWSTODAYJ रामगढ़ : गोला वन क्षेत्र में हाथियों का झुंड तबाही मचा रहा है। पिछले पांच दिनों से इस क्षेत्र में छह जंगली हाथी घूम रहे हैं। वे न सिर्फ फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं, बल्कि वे इंसानों की जान भी ले रहे हैं। अब तक दो ग्रामीणों की जान जा चुकी है। पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल कायम हो गया है। बुधवार को डीएफओ डॉ विजय शंकर दुबे ने बताया कि गोला प्रखंड के वैसे सभी गांवों में लोगों को अलर्ट किया गया है, जो जंगली क्षेत्र में हैं।

यह भी पढ़े…Supreme Court’s decision : एमवी राव बने रहेंगे झारखंड के डीजीपी,SC ने खारिज की याचिका…

उन्होंने कहा कि गोला प्रक्षेत्र के रेंजर को इस बात का निर्देश भी दिया गया है कि वे गांव में मशाल, तेज आवाज करने वाले पटाखे, वह हाथियों को भगाने के प्रयोग में आने वाले ढोलक, नगाड़े आदि का वितरण कराएं। साथ ही ग्रामीणों को इस बात के लिए प्रशिक्षित करें कि वह हाथियों को दूर भगा सकें। उन्होंने बताया कि गोला वन क्षेत्र में क्विक रिस्पांस टीम बनाई गई है। टीम सूचना मिलते ही गांव में पहुंच रही है। लेकिन जब तक टीम नहीं पहुंचती है, तब तक ग्रामीणों को ही जंगली पशुओं का सामना करना पड़ता है। अगर वे अलर्ट रहेंगे तो उन्हें ज्यादा नुकसान नहीं होगा।

यह भी पढ़े…Declaration of movement : निगम कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेगे , भारतीय मजदूर यूनिनन ने आंदोलन छेड़ने का एलान किया…

डीएफओ ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में पूरी रात अधिकारी ग्रस्त भी लगा रहे हैं। साथ ही उनसे यह भी अपील की जा रही है कि वे अंधेरे में घर से बाहर ना निकले। इसके अलावा बेहद जरूरी होने पर समूह में ही बाहर निकले, ताकि जंगली हाथियों से दूर रह सकें। उन्होंने कहा कि जंगल में मवेशी चराने व किसी अन्य काम के लिए कोई भी व्यक्ति अकेले ना जाए। उन्होंने कहा कि छह हाथियों का झुंड अभी इस इलाके में घूम रहा है। जब तक वह यहां से नहीं निकलते हैं तब तक लोगों को बेहद सतर्कता बरतने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.