Digital strike : एक बार फिर चीन पर डिजिटल स्‍ट्राइक करने की तैयारी में भारत , 47 ऐप्स पर फिर प्रतिबंधित कर दिया गया…

1 min read

Digital strike : एक बार फिर चीन पर डिजिटल स्‍ट्राइक करने की तैयारी में भारत , 47 ऐप्स पर फिर प्रतिबंधित कर दिया गया…

  • सरकार स्थिति पर नजर बनाए हुए है। अधिकारी ने कहा, “अगर कोई ऐप अलग-अलग नामों से वापस आने की कोशिश करता है
  • पहले ही 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद 47 ऐप्स को एक बार फिर प्रतिबंधित कर दिया गया।

NEWSTODAYJ (एजेंसी) नई दिल्‍ली: भारत सरकार ने एक बार फिर चीन पर डिजिटल स्‍ट्राइक की है। भारत ने पहले ही 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद 47 ऐप्स को एक बार फिर प्रतिबंधित कर दिया गया। तीसरी हड़ताल की तैयारी की जा रही है। खबरों के मुताबिक, सरकार अन्य 15 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के लिए तैयार है।

यह भी पढ़े …Employment in panchayat : झारखंड राज्य के प्रत्‍येक जिला पंचायत में एक सप्ताह के अंदर 150 श्रमिकों को मिलेगा रोजगार …


रिपोर्ट में जिन नए चीनी ऐप पर सरकार प्रतिबंध लगाने जा रही है, उनमें वीडियो एडिटिंग ऐप CapCut और Xiaomi के वेब ब्राउज़र ऐप शामिल हैं। 15 एप्स की सूची में कई और एप्स को प्रतिबंधित किया जाना है। इनमें जून में बंद किए गए ऐप्स के लाइव और प्रो संस्करण भी जोड़े गए हैं।

यह भी पढ़े…Narendra Modi from Ram Mandir: PM मोदी बोले- टूटने और उठने के क्रम से राम जन्मभूमि आज मुक्त हुई , मोदी के भाषण की अहम बातें…

इन एप्‍स पर लगेगा बैन

नई सूची में फोटो एडिटर ऐप एयरब्रश, लघु वीडियो, मिपाई और बॉक्सकैम को जोड़ा गया है। ये सभी ऐप चीन की एक कंपनी के हैं, जो फोन भी बनाती है। इसके अलावा ई-मेल ऐप नेटएज़, गेमिंग ऐप हीरोज़ वॉर और स्लाइडप्लस के नाम भी सूची में शामिल हैं। इसके साथ ही Baidu सर्च और सर्च लाइट ऐप भी शामिल है। इनके अलावा प्ले स्टोर से एयरब्रश, कामचोर, बॉक्सकैम जैसे ऐप गायब हो गए हैं। अभी तक इन 15 ऐप्स के प्रतिबंध के बारे में सरकार द्वारा कोई बयान जारी नहीं किया गया है।

यह भी पढ़े…Sushant Rajput Death Case : CBI को ट्रान्सफर हुआ सुशांत केस, बिहार के मुख्यमंत्री की सिफारिश केंद्र ने मंजूरी दी…

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सरकार स्थिति पर नजर बनाए हुए है। अधिकारी ने कहा, “अगर कोई ऐप अलग-अलग नामों से वापस आने की कोशिश करता है, तो हम आगे की कार्रवाई करेंगे।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.