Dhanbad News : किन्नर समाज की आपसी मारपीट और विवाद को सुलझाने के लिए एसडीएम ने किया बैठक…

Dhanbad News : किन्नर समाज की आपसी मारपीट और विवाद को सुलझाने के लिए एसडीएम ने किया बैठक…

NEWSTODAYJ धनबाद : जिले में थर्ड जेंडर यानी कि किन्नर समाज की आपसी मारपीट और विवाद को सुलझाने के लिए एसडीएम सुरेंद्र प्रसाद के साथ धनबाद परिसदन में मंगलवार को एक बैठक हुई। जिसमें सुनयना किन्नर गुट और छमछम किन्नर गुट के बीच इलाके को लेकर आउटलाइन तय की गई। जिला प्रशासन की मानें तो इस समझौते के बाद दोनों एक दूसरे के लिए जिला प्रशासन द्वारा किये गए रेखांकित क्षेत्र में अपना काम नहीं करेंगे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : लॉ कॉलेज में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

अगर क्षेत्र के रेखांकन को दोनों गुट में से किसी भी गुट पर अवमानना का आरोप लगा तो, संबंधित क्षेत्र के थाना प्रभारी उसके खिलाफ कार्रवाई करने को बाध्य होंगे। एसडीएम ने यह भी बताया कि किन्नर समाज के दोनों गुटों से उनकी बातचीत हुई। जिसमे उन्होंने दोनों गुटों की समस्याओं को बारीकी से समझा। इन लोगों के बीच धनसार थाना से गया पुल तक के क्षेत्र को लेकर आपसी झड़प होती थी। जिसे आज बातचीत के जरिये सुलझा लिया गया है। भविष्य में इसे और मजबूती से दोनों गुटों के बीच रेखांकित किया रहेगा। जिससे दोनों गुट के बीच में अमन-चैन बरकरार रहे।

यह भी पढ़े…Crime News : आयशा ने नदी में कूदने से पहले एक वीडियो संदेश रिकॉर्ड किया , पुलिस को इस आत्महत्या मामले में बड़ी सफलता हाथ लगी: वीडियो देख आप भी हो जाएंगे भावुक देखे वीडियो…

मालूम हो कि छमछम किन्नर और सुनयना किन्नर गुट के बीच वर्षों से जिले में क्षेत्र के क्षेत्र में वर्चस्व को लेकर झड़प होती रही है। ऐसे में झड़प के बाद हत्या भी हो चुकी है। प्रशासन ने मामले को काफी गंभीरता से लेते हुए निपटारा करने का प्रयास किया है। अब देखना है प्रशासनिक दखल के बाद किन्नर समाज की आपसी रंजिश खत्म हो जाएगी, या भविष्य में भी थर्ड जेंडर के दोनों गुट आपस में संघर्ष करते रहेंगे। परंतु यह तो आने वाला समय ही बताएगा कि प्रशासनिक हस्तक्षेप के बाद दोनों गुट का आपसी विवाद कितना सुलझ पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here