Dhanbad News : आरएटी स्पेशल ड्राइव : लोगों में जागरुकता लाने के लिए उपायुक्त ने की ऑनलाइन बैठक…

0
न्यूज़ सुने

Dhanbad News : आरएटी स्पेशल ड्राइव : लोगों में जागरुकता लाने के लिए उपायुक्त ने की ऑनलाइन बैठक…

  • गलतफहमियों को दूर करने, कोरोना के दुष्प्रभाव, होम आइसोलेशन सहित अन्य बिंदुओं पर दिया मार्गदर्शन

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए शुरू की गई रैपिड एंटीजन टेस्ट स्पेशल ड्राइव तथा कोरोनावयरस के प्रति लोगों के मन में व्याप्त गलतफहमी, कोरोना का दुष्प्रभाव सहित अन्य भ्रांतियों को दूर करने के उद्देश्य से आज उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद उमा शंकर सिंह ने पंचायतों एवं वार्डों के जनप्रतिनिधियों, पर्यवेक्षक, पीडीएस डीलर, सेविका, सहायिका, सहिया के साथ ऑनलाइन बैठक कर महत्वपूर्ण विषयों पर मार्गदर्शन दिया।

यह भी पढ़े…Indian Railways : डीसी रेल लाइन पर नहीं दौड़ेगी ट्रेन, हाइकोर्ट ने याचिका को खारिज किया…

उपायुक्त ने कहा कि सभी संवेदनशील पंचायतों एवं वार्डों में 15 सितंबर से शुरू आरएटी स्पेशल ड्राइव के तहत तीन से चार लाख की जनसंख्या की जांच करने का लक्ष्य निर्धारित है।उपायुक्त ने कहा कि लोगों के मन में ऐसी भ्रांति एवं गलतफहमी है कि टेस्ट करने से सभी लोग पॉजिटिव हो जाते हैं। जबकि टेस्ट में केवल 2 से 3% लोग ही कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं। लोग यह भी सोचते है कि यहां अस्पतालों में अच्छी व्यवस्था नहीं है। मरीज अपने आप ठीक हो जाते हैं।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : कोरोना जांच शिविर आयोजित ,लोगो की संख्या में भारी कमी…

कोरोना एक सामान्य बीमारी है। कोरोना अभी तक हमारे घर तक नहीं आया है तो हमें चिंता क्यों करनी चाहिए।उपायुक्त ने कहा कि लोगों को यह जानकारी दें कि जिले में गंभीर मरीजों के लिए डेडिकेटिड कॉविड अस्पताल (सेंट्रल अस्पताल) तथा पीएमसीएच में 30 बेड का आईसीयू, हलके लक्षण वाले मरीजों के लिए पीएमसीएच कैथ लैब, सदर अस्पताल, निरसा पॉलिटेक्निक, टाटा अस्पताल जामाडोबा, बीसीसीएल अस्पताल भूली, क्षेत्रीय रेलवे प्रशिक्षण संस्थान भूली, गर्भवती महिलाओं के लिए एसएसएलएनटी अस्पताल, पेड आइसोलेशन के लिए वेडलॉक ग्रीन्स तथा किंग्स रिजॉर्ट में उपचार की व्यवस्था है।

यह भी पढ़े…Allegations of irregularities : डेढ़ दो सौ वर्षों पुरानी होरलाडीह कब्रिस्तान , पूर्व विधायक व मेयर विकास की कार्य पर अनिमिता बरतने का आरोप…

इलाज नहीं कराने के दुष्प्रभाव पर उपायुक्त ने कहा कि एक संक्रमित व्यक्ति अपने साथ-साथ पूरे परिवार एवं समाज को नुकसान पहुंचा सकता है। जांच करने के बाद ही संक्रमित की पहचान होगी। पहचान होने के बाद संक्रमित को आइसोलेट कर, उपचार देकर उसे स्वस्थ किया जाएगा। इससे संक्रमित का परिवार सहित उनके संपर्क में आने वाले अन्य लोग वैश्विक महामारी की चपेट में आने से बच सकेंगे।उपायुक्त ने कहा कि आरएटी स्पेशल ड्राइव में जांच कराने तथा इस आपदा से निपटने में सभी की जिम्मेदारी महत्वपूर्ण है। अतः सभी से अनुरोध है कि वे अपने आस पड़ोस एवं समाज में जिला प्रशासन द्वारा किये जा रहे कार्यों, जिले में उपलब्ध चिकित्सा व्यवस्था, होम आइसोलेशन के नियम तथा कोविड- 19 से बचाव के उपायों के संबंध में जानकारियां साझा करें तथा इस अभियान में भाग लेकर अपना कोविड जांच अवश्य कराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here