Dhanbad News : कमर्शियल एवं रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स के लिए 5 सितंबर को चलाई जाएगी आरएटी स्पेशल ड्राइव…

1 min read

Dhanbad News : कमर्शियल एवं रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स के लिए 5 सितंबर को चलाई जाएगी आरएटी स्पेशल ड्राइव…

  • संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए उपायुक्त ने की सभी से जांच में सहयोग करने की अपील।
  • शर्तो के साथ मिल सकती है होम आइसोलेशन की सुविधा।

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले में कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद, उमा शंकर सिंह के निर्देश पर लगातार आरएटी स्पेशल ड्राइव अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में आगामी 5 सितंबर को संवेदनशील क्षेत्रों के कमर्शियल एवं रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स में आरएटी स्पेशल ड्राइव से लगभग 5 से 6 हजार लोगों की जांच करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। उपायुक्त ने सभी दुकानदारों एवंं उनके कर्मचारियों तथा रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स के निवासियों से जांच कराने की अपील की है।आरएटी स्पेशल ड्राइव को लेकर उपायुक्त ने आज फेडरेशन ऑफ धनबाद जिला चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज तथा बिल्डर एसोसिएशन के साथ समाहरणालय के सभागार में बैठक आयोजित की।

यह भी पढ़े…Politics News : कांग्रेस व झामुमो छात्रों-युवाओं को गुमराह कर रहे , छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे झारखंड सरकार – किसलय तिवारी…


इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि 5 सितंबर को सरायढेला शिव मंदिर में 600, हीरापुर हटिया स्कूल में 1200, बैंक मोड़ मार्केट तथा श्रीराम प्लाज़ा के लिए बैंक मोड़ चेंबर कार्यालय में 1000 लोगों की जांच की जाएगी। कार्मिक नगर स्थित अक्षय ग्रीन्स में 500, नालंदा रेजिडेंशियल कॉलोनी मेमको मोड़ में 500, बालाजी वनस्थली सोसाइटी में 500, सिम्फर हेल्थ सेंटर में 600, झारूडीह देव विहार में 600 तथा कुंज विहार कॉलोनी सरायढेला में 400 लोगों की जांच करने का लक्ष्य निर्धारित है।

यह भी पढ़े…Funeral processionपीएन सिंह और राज सिन्हा का जम कर विरोध निकाला गया शव यात्रा(देखें विडियो)…

उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए शहरी क्षेत्र में संवेदनशील स्थान की पहचान की गई है। जिसमें हीरापुर, स्टील गेट, कोयला नगर, सरायढेला, झारूडीह, कोलाकुसमा, चिरागोड़ा, हाउसिंग कॉलोनी, सिटी सेंटर, बैंक मोड़, मटकुरिया, शक्ति मंदिर रोड इत्यादि शामिल है। जिला प्रशासन अगले कुछ दिनों तक लगातार ऐसे संवेदनशील क्षेत्रों में लोगों की जांच करेगा। उन्होंने कहा जब तक लोग जांच नहीं कराएंगे तथा आइसोलेशन में नहीं जाएंगे तब तक कोरोना के संक्रमण से मुक्त नहीं होंगे तथा संक्रमण की दर भी कम नहीं होगी।शर्तो के साथ मिल सकती है होम आइसोलेशन की सुविधा उपायुक्त ने कहा कि जांच के क्रम में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने पर उनका शीघ्र उपचार करने के लिए अस्पताल में भर्ती किया जाएगा।

यह भी पढ़े…Little news : इंजीनियर बना चायवाला , IAS ऑफिस ने शेयर की तस्वीर , Software इंजीनियर चाहते सुकून की जिंदगी पढ़े पूरी खबर…

यदि किसी हल्के लक्षण वाले एसिम्पटोमेटिक मरीज के पास अपना घर होगा, एटेच्ड शौचालय युक्त कमरा, किसी अन्य व्यक्ति के संपर्क में नहीं आएगा तथा कुछ अन्य शर्तों का पालन करने पर होम आइसोलेशन की सुविधा भी प्रदान की जा सकती है।जांच में सहयोग नहीं करने वालों दुकानदारों के विरुद्ध होगी कड़ी कार्रवाई उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन लगातार कोरोना की चेन को तोड़ने एवं संक्रमण की बढ़ती रफ्तार पर ब्रेक लगाने की और प्रयासरत है। ऐसे में लोगों को सामने आकर सहयोग करना चाहिए। उन्होंने सभी दुकानदारों से सख्त शब्दों में कहा कि यदि वे आदेश का उल्लंघन करेंगे और अपनी तथा दुकान के कर्मियों का टेस्ट नहीं कराएंगे तो जिला प्रशासन सख्ती बरतते हुए उनपर कार्रवाई के साथ दुकान को सील करेगा।बेहतर इलाज के लिए जिला प्रशासन है तैयार, पीएमसीएच में बन रहा है वर्ल्ड क्लास आइसीयू उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन कोरोना संक्रमितों के बेहतर इलाज के लिए तैयार है। इसलिए व्यापक टेस्ट अभियान चलाया जा रहा है। इससे धीरे-धीरे संक्रमण की चेन टूट रही है। उन्होंने कहा एक संक्रमित कई अन्य लोगों को संक्रमित कर सकता है।

यह भी पढ़े…GST Dispute over : जीएसटी के मामले पर भाजपा प्रवक्ता कुणाल सारंगी ने कहा…सरकार की जानकारी का अभाव हैं…

कोरोना किसी को नहीं छोड़ता है। गंभीर मरीजों के उपचार के लिए पीएमसीएच में 30 बेड का वर्ल्ड क्लास उम्दा आईसीयू का निर्माण किया जा रहा है। शीघ्र ही यह कार्य करना शुरू कर देगा।2 से 3 प्रतिशत है पोजिटिविटी रेट ।उपायुक्त ने बताया कि जिले में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 2 से 3% है। इसमें 85 से 90% एसिंप्टोमेटिक हैं। एक से 2% लोग सिंप्टोमेटिक है। साथ ही बताया कि 15 दिनों में 75 से 80% जिले की रिकवरी रेट रही है। अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए सर्किट हाउस से टेलीमेडिसिन स्टूडियो की शुरुआत की गई है। यहां से प्रतिदिन 130 से अधिक लोगों को परामर्श दिया जाता है।बैठक में उपायुक्त उमा शंकर सिंह, अनुमंडल दंडाधिकारी राज महेश्वरम, फेडरेशन ऑफ धनबाद जिला चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष चेतन गोयनका, महासचिव अजय नारायण लाल, बिल्डर एसोसिएशन के अनिल सिंह, प्रमोद अग्रवाल, रितेश शर्मा सहित विभिन्न चेंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.