Dhanbad News : कोयलांचल में बनने वाली आठ लेन सड़क का निर्माण को एक बार फिर से हरी झंडी…

यहाँ देखे वीडियो।

Dhanbad News : कोयलांचल में बनने वाली आठ लेन सड़क का निर्माण को एक बार फिर से हरी झंडी…

NEWSTODAYJ : धनबाद।कोयलांचल में बनने वाली आठ लेन सड़क का निर्माण को एक बार फिर से हरी झंडी मिल गई है और अब सड़क बनाने और नहीं बनाने का संशय दूर हो गया है.अब झारखंड की सबसे पहली विश्व सुविधा से लैस आठ लेन की सड़क धनबाद में बनेगी इसकी स्वीकृति कल सीएम ने दी है. जिसके बाद धनबाद के निवर्तमान मेयर ने प्रेस वार्ता को संबोधित किया और सभी को धन्यवाद कहा।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह भी पढ़े…Dhanbad News : झारखंड ग्रामीण पुलिस एकता के बैनर तले 14 सूत्री मांगों को लेकर जिले के चौकीदारों ने धरना प्रदर्शन किया…

उन्होंने कहा कि विकास का कार्य जो भी होता हो सरकार बदले उससे विकास का कार्य नहीं रुकना चाहिए कुछ कारणवश जरूर इस सड़क का निर्माण कुछ दिनों के लिए रोका गया लेकिन अंततः इस सड़क को का निर्माण एक बार फिर से होने की स्वीकृति सीएम ने दी है. जिससे धनबाद की जनता में खुशी की लहर है. उन्होंने इस सड़क निर्माण के लिए झारखंड के पहले मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को धन्यवाद कहा उन्होंने कहा कि जिस प्रकार बाबूलाल मरांडी ने पद भ्रमण कर सड़क का हाल जाना और सीएम को चिट्ठी लिखी वह बधाई के पात्र हैं. साथ ही साथ उन्होंने इस सड़क के लिए सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को भी धन्यवाद कहा उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण होने से धनबाद का विकास होगा धनबाद के सभी छह विधायक चाहे वह किसी भी दल के हो सभी बधाई के पात्र हैं।प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए निवर्तमान मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने कहा कि इस सड़क निर्माण को क्यों रोका गया था।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : कोविड-19 के दिशा निर्देशों के उल्लंघन पर दस दुकानों को किया गया सील…

और अब फिर इसकी स्वीकृति क्यों दी गई है यह सवाल भी माननीय सांसद पशुपतिनाथ सिंह जी ने मुख्यमंत्री जी से पूछा है उन्हें यह जवाब देना चाहिए. लेकिन लगातार जिस तरीके से सांसद इस सड़क को बनवाने के लिए प्रयत्नशील रहे वह भी बधाई के पात्र हैं. उन्होंने कहा कि आज इस सड़क निर्माण की स्वीकृति मात्र से ही उस सड़क किनारे जमीन की वैल्यू बढ़ गई है और विश्व बैंक से उधार लिया गया पैसा उस जमीन की रजिस्ट्री की रेवेन्यू से ही चुका दिया जाएगा. इस तरह किसी भी तरह से यह सड़क विकास में बाधक नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here