NEWSTODAYJ_धनबाद: बरमसिया निवासी अजय कुमार साव के 4 माह का पुत्र आरव जो बाईलेरी अट्रेसिया नामक बीमारी से जूझ रहा था जिसके इलाज के लिए 25 लाख खर्च होने थे और इसका इलाज चैन्नई के गोलोबल अस्पताल में होना था। समाजसेवी अंकित राजगढ़िया द्वारा जिंदगी मांगे आरव मुहिम शुरू की गई थी।

 

अंकित के मुहिम शुरू करने के बाद मुहिम ने रफ्तार पकड़ी और लोगों के सहयोग से 25 लाख जमा हुआ फिर चैन्नई के गोलोबल अस्पताल में आरव की माँ रानी देवी ने अपने लिवर का 25 फीसदी हिस्सा दान किया और आरव की जिंदगी बचाई।

 

आज 3 माह के इलाज के पूर्ण होने के बाद आरव अपनी माँ के साथ धनबाद आया जहाँ समाजसेवी अंकित राजगढ़िया और उनके मित्र चतर्भुज कुमार ने आरव और उसकी माँ का भव्य स्वागत किया।

यह भी पढ़े…Dhanbad news:बीसीसीएल कर्मी की इलाज के दौरान मौत,परिजनों ने मुवाअजा व नियोजन की मांग को लेकर धरना दिया

स्टेशन पर आरव और उसकी माँ को फूलों की माला पहनाकर स्वागत किया गया और आरव को तिलक लगाकर आरती उतारा गया।

 

साथ मे आरव के पिता अजय कुमार,शेखर वर्मा,मुन्ना साव,गुड्डू पासवान,रतन मौजूद थे।

आरव के माता और पिता ने धनबाद वासियों को दिल से धन्यवाद दिया। अंकित और उनकी टीम को मुहिम सफल बनाने के लिए हृदय से आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *