• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Dhanbad news:बीसीसीएल द्वारा पुनर्वास की व्यवस्था नही करने पर विस्थापितों में आक्रोश,सर्वे के कार्य को रोका

1 min read

NEWSTODAYJ_झरिया के कुजमा में बीसीसीएल आउट सोर्सिंग के तहत कोयला निकलेगी जिसे लेकर कंपनी की ओर से काम सुरु कर दिया गया हैं पहले फेज में सर्वे और सीआईएसएफ का केम्प बनाने का कार्य सुरु किया गया है . जिससे कुजाम की 5 हजार आबादी प्रभावित होगा. लेकिन कुजामा के लोगों को पुनर्वास की कोई व्यवस्था नहीं की गई जिससे कुजामा के लोगो में आक्रोश व्याप्त हैं. बीसीसीएल की सर्वे टीम शनिवार 28 जनवरी को जब सर्वे के लिए पहुंची तो स्थानीय लोगो ने विरोध किया और सर्वे के कार्य को रोक दिया शुक्रवार 27 जनवरी को भी जब कैम्प निर्माण के लिए बीसीसीएल अधिकारी पंहुचे तो भी विरोध का सामना करना पड़ा था. स्थानीय लोगो के विरोध को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस और सीआईएसएफ को तैनात कर दिया गया हैं.

 

यह भी पढ़े…Dhanbad news:थाने से सटे दुर्गा मंडप में चोरो ने लाखों के समान पर किया हाथ साफ:अस्थानिय लोगो मे पुलिस के खिलाफ आक्रोश
कुजामा में एक बड़ी आबादी निवास करती है यहां 1 हजार घर है जिसमे 5 हजार की आबादी है कोयला उत्खनन के लिए ओपन माइंस बनेगा जिससे यहां के लोग सीधे तौर पर प्रभावित होंगे लेकिन बीसीसीएल की और से अभी तक पुनर्वास के लिए कोई पहल नही किया गया हैं जिसका स्थानीय लोग विरोध कर रहे है यहां के स्थानीय लोगो का कहना है की पहले हमलोग का पूर्णवास सुनिश्चित हो, घर दिया जाय साथ ही कुजामा के सीके साइडिंग में काम कर रहे 250 मजदूरों का काम सुनिश्चित किया जाय तब हमलोग यहां काम करने देंगे नही तो कोई काम नही करने देगें.

बीसीसीएल के कुजमा कोलयरी के परियोजना प्रभारी के. के. सिंह का इसे लेकर कहना है की अभी सर्वे का काम चल रहा हैं आउट सोर्सिंग सुरु होने से पहले इनका पुनर्वास कराया जाएगा.

लेकिन कुजामा बस्ती के लोगो को बीसीसीएल अधिकारी पर भरोसा नही हैं इसका कई कारण है एक तो की इतने वर्षो में जरेड़ा ने मात्र 4500 लोगो का ही पुनर्वास बेलगड़िया टाउनसिप किया हैं. इनका मानना है की आउट सोर्सिंग कम्पनी माइंस बना कर कोयला उत्खनन करेगी और हमलोग को इसी धूल कण और बलास्टिंग में रहना होगा. जिस तरह से स्थानीय और बीसीसीएल आमने सामने है बीसीसीएल इसका निराकरण नही करती है तो आने वाले समय में जिला प्रशासन के लिए लॉ एंड ऑर्डर की समस्या उत्पन हो सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.